डॉ. विश्वनाथ की सीट पर अर्जुन के लाडले की नजर

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने में अभी काफी समय है, लेकिन चुनाव लडऩे वालों ने तो बांहें अभी से चढ़ानी शुरू कर दी है। बीकानेर की बात करें तो यहां भी सातों सीटों के लिए दावेदारों के नाम अभी से सामने आने लगे है। ताजा खबरों के अनुसार सबसे ज्यादा चर्चा यहां की खाजूवाला विधानसभा सीट को लेकर हो रही है।

हाल में क्षेत्र के सांसद अर्जुनराम मेघवाल की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में उनके बेटे रविशेखर की सक्रियता और मीडिया को दिए चुनाव संबंधी बयान के बाद यह सीट चर्चा का केन्द्र बन गई है। सांसद अर्जुनराम मेघवाल के बेटे रविशेखर ने मीडिया से बातचीत में खाजूवाला विधानसभा सीट से चुनाव लडऩे के संकेत दे दिए, इसके साथ ही राजनीति गलियारे में सुगबुगाहट शुरू हो गई। इस सीट से भाजपा के डॉ. विश्वनाथ मेघवाल दो बार चुनाव जीत चुके है। ऐसे में इस सीट पर सांसद पुत्र की चुनाव लडऩे की महत्वाकांक्षा ने कांग्रेस की तरह भाजपा में भी धड़ेबंदी को उजागर कर दिया है। सांसद पुत्र रविशेखर ने मीडिया से बातचीत में साफतौर पर कहा कि वे वर्ष 1990 से सक्रिय राजनीति में है। यदि पार्टी उन्हें मौका देती है तो वे खाजूवाला क्षेत्र के लोगों की सेवा के लिए उत्सुक रहेंगे। सांसद पुत्र के इस बयान के बाद हालांकि खाजूवाला के वर्तमान विधायक डॉ. विश्वनाथ की ओर से कोई बयान नहीं आया है, लेकिन उनकी बेचैनी जरूर बढ़ गई है।

भाजपा विधायक डॉ. विश्वनाथ वैसे तो किसी गुट विशेष से ताल्लुकात नहीं रखते, लेकिन भाजपा के कद्दावर नेता देवीसिंह भाटी से नजदीकियां और सांसद मेघवाल से दूरियां जगजाहिर है। प्रदेश की मुखिया वसुंधरा राजे की पसंदीदा टीम में भी इनका नाम लिया जाता है। ऐसे में अर्जुन के लाडले की ओर से ठोकी गई ताल से डॉ. विश्वनाथ की मुश्किलें बढ़ जाएगी या बेअसर होगी, यह तो आने वाला समय ही बताएगा।