गुलाबी सर्दी में खूब हुआ मतदान, प्रत्याशियों ने ऐसे डाले वोट

बीकानेर पश्चिम से कांग्रेस प्रत्याशी बी. डी. कल्ला मतदान के बाद अपनी पत्नी शिवकुमारी कल्ला के साथ।
बीकानेर पश्चिम से कांग्रेस प्रत्याशी बी. डी. कल्ला मतदान के बाद अपनी पत्नी शिवकुमारी कल्ला के साथ।

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। जिले की सात विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र में शुक्रवार को शांतिपूर्ण मतदान सम्पन्न हुआ। बड़ी संख्या में महिला व पुरुष मतदाताओं ने निर्भय रहकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। गुलाबी सर्दी के बीच सुबह से ही मतदान केन्द्रों के बाहर लम्बी कतारें लगने लगी, यह सिलसिला शाम पांच बजे तक बरकरार रहा।

बीकानेर पश्चिम से भाजपा प्रत्याशी गोपाल जोशी मतदान के बाद अपनी पत्नी के साथ।
बीकानेर पश्चिम से भाजपा प्रत्याशी गोपाल जोशी मतदान के बाद अपनी पत्नी के साथ।

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एन. के. गुप्ता ने बताया कि विधानसभा चुनाव 2018 के लिए मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्वक रही। उन्होंने बताया कि कड़ी सुरक्षा व्यवस्थाओं के बीच मतदाताओं ने उत्साह से मत प्रयोग किया।

लूनकरणसर विधानसभा क्षेत्र से कांगे्रस प्रत्याशी वीरेन्द्र बेनीवाल मतदान करते हुएर्।
लूनकरणसर विधानसभा क्षेत्र से कांगे्रस प्रत्याशी वीरेन्द्र बेनीवाल मतदान करते हुएर्।

डॉ. गुप्ता ने बताया कि इस बार दिव्यांग मतदाताओं के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई। दिव्यांग मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक लाने व ले जाने की व्यवस्था के चलते बड़ी संख्या में दिव्यांग मतदाता अपने वोट का प्रयोग करने पहुंचे। मतदाताओं ने मतदान केन्द्रों पर बने सुविधा केन्द्रों में पहुुंच मार्गदर्शन लिया। सुविधा केन्द्रों पर मौजूद रहे एनसीसी, एनएसएस स्वयंसेवकों ने मतदाताओं की मदद की।

लूनकरणसर में भाजपा प्रत्याशी सुमित गोदारा मतदान करते हुए।
लूनकरणसर में भाजपा प्रत्याशी सुमित गोदारा मतदान करते हुए।

चैकपोस्ट और नाकेबंदी कर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्थाएं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान के दौरान किसी भी प्रकार की अव्यवस्थाओं से बचने के लिए और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी महत्वपूर्ण रास्तों पर चैकपोस्ट बनाकर नाकेबंदी की व्यवस्था की गई। संदिग्ध वाहनों को रोककर पूछताछ की गई।

श्रीडूंगरगढ़ से भाजपा प्रत्याशी ताराचंद सारस्वत वोट देने के बाद अपनी पत्नी के साथ।
श्रीडूंगरगढ़ से भाजपा प्रत्याशी ताराचंद सारस्वत वोट देने के बाद अपनी पत्नी के साथ।

 

देशनोक, रासीसर, भामटसर में दिखा भारी उत्साह

नोखा विधानसभा के रासीसर में बने बूथ पर मतदाताओं का विशेष उत्साह देखने को मिला। दोपहर एक बजे से पूर्व ही बूथ पर आधे से अधिक मतदाताओं ने पहुंचकर वोट डाले। भामटसर में भी सुबह से मतदाताओं में भारी उत्साह दिखा। देशनोक नगरपालिका में बने एक बूथ पर दोपहर एक बजे तक 1300 में से 400 मतदाताओं ने अपने वोट का प्रयोग किया।

मॉक पोल कर किया संतुष्ट

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एन.के. गुप्ता ने बताया कि मतदान से एक घंटा पूर्व राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों व आमजन के समक्ष मॉकपाल करवाई गई। इसके बाद आठ बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

वीवीपैट रही चर्चा का केन्द्र

विधानसभा चुनाव में ईवीएम के साथ पहली बार प्रयोग में लाई गई वोटर वेरिफाइबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) को लेकर मतदाताओं में विशेष चर्चा रही। वोट का प्रयोग कर मतदान केन्द्रों से बाहर निकले मतदाताओं ने इस पर चर्चा की। मतदाताओं का कहना था कि इस पर्ची के जरिए उन्हें मत प्रयोग के बाद अपने पंसदीदा प्रत्याशी को वोट जाने की पुष्टि हो सकी। इस व्यवस्था से वे अधिक संतुष्ट नजर आए।

रंग-बिरंगे पारम्परिक परिधानों में पहुंची महिलाएं

जिले की सातों विधानसभा क्षेत्रों में महिला मतदाताओं में मतदान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। पारम्परिक रंग-बिरंगे परिधानों में सजी-धजी महिलाएं मतदान केन्द्रों पर पहुंची और अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

बॉर्डर एरिया के बूथ पर दो पक्ष भिड़े, गाडिय़ां फूंकी

मतदान के बाद बोले भाटी- मुझे पर हमला हुआ, सिस्टम नाकाम साबित

अब एग्जिट पोल पर टिकी नजरें, ये हैं पोल की ताजा अपडेट…