विस : पहला दिन ही हंगामेदार

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। चौहदवीं वि.स. के बजट सत्र का आगाज सोमवार को हंगामेदार हुआ है। वि.स. में राज्यपाल के अभिभाषण शुरू होने से पहले ही विपक्षी विधायकों ने सरकार पर हमला बोलना शुरू कर दिया। इसकी शुरूआत खींवसर से निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल ने की। वे राज्यपाल का अभिभाषण शुरू होने से पहले ही वेल तक पहुंच गए।
विधायक बेनीवाल ने किसानों की कर्ज माफी का नारा लिखे कागज लहराते हुए सरकार पर बरसने लगे, लेकिन राज्यपाल अपना भाषण पढ़ते रहे। इस दौरान कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह डोटासरा ने राज्यपाल के अभिभाषण को झूठ का पुलिंदा बताते हुए कहा कि आप वो बातें पढ़ रहे हैं जो सरकार ने आपको बताई है मगर आपको ये मालूम नहीं है कि प्रदेश में किसान लगातार आत्महत्या कर रहे हैं, कानून और व्यवस्था बिगड़ रही है। महिलाओं के साथ अत्याचार बढ़ रहे हैं। कांग्रेस के विधायक रमेश मीणा ने उपचुनाव में भाजपा की हार का जिक्र करते हुए कहा कि रस्सी जल गई पर बल नहीं गया। उपचुनाव में हार गए हो, फिर भी आपके व्यवहार में कोई परिवर्तन नहीं आया है। उन्होंने साफतौर पर कहा कि अब वो दिन दूर नहीं जब लोग आपको शहर और गांवों से बाहर निकाल देंगे। हंगामे को बढ़ता देख संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने राज्यपाल से कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण को पढ़ा हुआ मान लेना चाहिए। इसके बाद राठौड़ विपक्ष के तीखे हमलों का जवाब देने लग गए।