अब साल में दो बार आयोजित होगी ये प्रमुख परीक्षाएं

269
HRD Minister Prakash Javadekar
HRD Minister Prakash Javadekar

नई दिल्ली (अभय इंडिया न्यूज)। सरकार नेनीट, जेईई और नेट-सीमैट प्रवेश परीक्षाओं में शनिवार को तीन बड़े बदलाव किए हैं। अब ये चारों परीक्षाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (नीट) कराएगी। फिलहाल ये सभी परीक्षाएं सीबीएसई आयोजित कर रही है। नए बदलाव के मुताबिक अब जेईई और नीट परीक्षाएं साल में दो बार होंगी। सभी परीक्षाएं कम्प्यूटर बेस्ड होंगी। ये बदलाव अगले सत्र से लागू होंगे।

एचआरडी मिनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि नीट की परीक्षा हर साल फरवरी और मई में कराएगी जाएगी, जबकि जेईई मेन्स जनवरी और अप्रैल में होगी। इसके अलावा नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट) की परीक्षा दिसंबर में ही होगी। हालांकि, जेईई एडवांस्ड की परीक्षा आईआईटी की तरफ से ही आयोजित की जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी परीक्षाएं कम्प्यूटर बेस्ड होंगी। छात्र घर पर ही या अधिकृत कम्प्यूटर सेंटर मुफ्त में प्रैक्टिस कर सकेंगे। अधिकृत सेंटरों की सूची जल्द ही जारी की जाएगी। इन परीक्षाओं के सिलेबस, सवालों के फार्मेट, भाषा और फीस में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

पेपर लीक पर लगेगी रोक

जावड़ेकर ने विश्वास जताया है कि परीक्षाओं का कम्प्यूटर आधारित फॉर्मेट होने से नकल पर रोक लगेगी। पेपर लीक होने की संभावना भी कम रहेगी। एसएससी परीक्षा में स्क्रीन शेयरिंग से पेपर लीक होने वाले सवाल का जवाब देते हुए जावड़ेकर ने किहा कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के मॉड्यूल में ऐसा नहीं हो सकेगा।