…तो यात्रा के दौरान सीएम को ‘अपने’ ही दिखाएंगे काले झंडे!

562
CM Vashundhara raje
CM Vashundhara raje

जयपुर/उदयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की राजस्थान गौरव यात्रा के विरोध में अब पार्टी के ‘अपने’ ही उतर रहे हैं। इन्होंने विरोध के स्वर मुखरित करते हुए सीएम की गौरव यात्रा आने पर उन्हें काले झंडे दिखाने की भी तैयारी कर ली है। विरोध की शुरूआत उदयपुर के वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र से हुई है। यहां पर मुख्यमंत्री की राजस्थान गौरव यात्रा पहुंचने से पहले तूफान आया हुआ है।

मंगलवार को वल्लभनगर के भाजपाई उदयपुर पहुंचे और यहां भाजपा कार्यालय में जमकर हंगामा किया और सीएम के खिलाफ नारे तक लगा दिए। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने एकस्वर में कहा कि पार्टी बड़ी होती है, सीएम पार्टी से ऊपर नहीं हो सकतीं। जब पूरी पार्टी भींडर में होने वाली सभा को निरस्त कर भटेवर में कराना चाहती है तो पार्टी को मानना होगा। वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता पटेल सर्कल स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे।

कार्यकर्ताओं का विरोध था कि मुख्यमंत्री की भींडर में सभा हर हाल में निरस्त की जाए, पूरी पार्टी और हर कार्यकर्ता सभा भटेवर में चाहते है ऐसे में पार्टी को यह मानना होगा। एक-एक कर पार्टी के पदाधिकारियों ने गुस्सा निकाला और कहा कि जो कार्यकर्ता पांच साल से पार्टी के लिए वहां मेहनत कर रहा है, उसकी बात नहीं मानी जाती है और जिससे हम लड़़ रहे है उनके वहां आमसभा कैसे कर रहे है।

भाजपा देहात अध्यक्ष गुणवंत सिंह झाला, महामंत्री चन्द्रगुप्त सिंह चौहान, रामकृपा शर्मा ने काफी समझाइश की। इस बीच झाला ने कहा कि कार्यक्रम जयपुर से ही तय होकर आया। मुख्यमंत्री का कार्यक्रम है ऐसे निरस्त नहीं कर सकते हैं। तभी गुस्साए कार्यकर्ता बोले सीएम पार्टी से ऊपर नहीं है। पार्टी तय कर रही है भटेवर में सभा हो तो फिर मानना होगा।

इस पर अध्यक्ष झाला ने गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया से भी मोबाइल पर बात कर पूरी स्थिति बताई। इस बीच करीब ढाई घंटे की समझाइश के बाद बात नहीं बनी तो वल्लभनगर के भाजपा कार्यकर्ता पार्टी कार्यालय के बाहर आकर धरना लगाए बैठ गए। उसी दौरान मुख्यमंत्री हाय-हाय के नारे तक लगाए गए। गुस्साए कार्यकर्ता यह भी बोल गए कि अगर भींडर की सभा निरस्त नहीं हुई तो भटेवर में कार्यकर्ता सीएम का स्वागत करने की बजाय काले झंडे दिखाएंगे।

शहर के इस थाना क्षेत्र में रहते हैं सबसे ज्यादा कुख्यात अपराधी

प्रदेश के इन 8 जिलों पर भारी पड़ सकता है मानसून, चेतावनी जारी