शहर के इस थाना क्षेत्र में रहते हैं सबसे ज्यादा कुख्यात अपराधी

मुकेश पूनिया/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। चुनावी साल में सतर्क हुई पुलिस ने अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए है। इसके तहत कुख्यात बदमाशों को चिन्हित कर उन्हें नेकचलनी के पांबद किया जा रहा है। बीकानेर में सर्वाधिक हिस्ट्रीशीटर सदर थाना क्षेत्र में हैं। यहां इनकी संख्या 96 हैं।

इसी तरह नयाशहर में 84, नोखा 55, खाजूवाला 47, लूणकरणसर 46, श्रीडूंगरगढ़ 19, कोलायत में 32 हिस्ट्रीशीटर हैं। फिलहाल पुलिस ने तस्करों और माफिया गिरोहों से जुड़े बदमाशों की निगरानी कड़ी कर दी गई है। इस सिलसिले में प्रदेश पुलिस मुख्यालय ने अभी हाल में एक नया फरमान जारी किया है। इसके तहत थानेदार अपने हल्के के हिस्ट्रीशीटरों का हालचाल लेने उनके घर जाएंगे और गतिविधियों से लेकर परिवार की अच्छी तरह खैर-ख्वाह लेंगे। जिला पुलिस महकमे से जारी नए फरमान के बाद थानाधिकारी भी सक्रिय हो गए हैं।

इधर, पुलिस की इस कवायद से जिले के अपराध जगत में खलबली मच गई है। सूत्रों के अनुसार पुलिस हैडक्वार्टर से मिले निर्देशों के बाद रोजाना प्रत्येक थानाधिकारी को एक.-एक हिस्ट्रीशीटर के घर-घर जाकर उनकी आपराधिक संलिप्ता के बारे में जानकारी लेनी है, इसके लिए पुलिस अधीक्षक ने सभी थानाधिकारियों को पाबंद कर दिया है। वहीं रोजाना रिपोर्ट मांगी है। थानाधिकारी संबंधित बीट कांस्टेबल से हिस्ट्रीशीटर की जानकारी एकत्र कर उसके घर जाएंगे। वहां हिस्ट्रीशीटर से उसके कामकाज के बारे में जानकारी लेंगे। वह किसी आपराधिक वृत्ति में तो संलिप्त नहीं है। इसके लिए उसके परिजनों व पड़ोसियों व रिश्तेदारों से जानकारी लेंगे। संबंधित हिस्ट्रीशीटर के किसी आपराधिक गतिविधि में शामिल होना पाए जाने पर उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आदतन अपराधी के घर नहीं मिलने पर बीट कांस्टेबल उसे थाने में उपस्थित होने के लिए पाबंद करेगा।

पुलिस ने तैयार कर ली हिटलिस्ट

चुनावी माहौल में कानून व्यवस्था बनाये रखने की तैयारियों के लिहाज से जिला पुलिस ने तमाम हिस्ट्रीशीटरों की सूची पहले ही तैयार कर ली है। यह सूची जिला प्रशासन और चुनाव आयोग को भेजेगी। इस सूची में जिलेभर के हिस्ट्रीशीटरों को शामिल किया जायेगा, जो चुनावी दौर में डरा-धमकाकर मतदाताओं को किसी प्रत्याशी विशेष के हक में मतदान करने को कह सकते हैं तो कई शराब व धन के बल पर भी मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं। इन सभी हिस्ट्रीशीटरों का हिरासत में लेकर सक्षम न्यायालयों में पेश कर पांबद किया जायेगा। इन पर कड़ी निगरानी के लिये पुलिस की विशेष टीम गठित की जायेगी।

कार्यभार संभालते ही आईजी ने कहा- अपराधियों में रहेगा खौफ

दिग्गज नेताओं की मौजूदगी में होगी हीरेश्वर मंदिर में मूर्तियों की प्राण-प्रतिष्ठा