तो ये है पूनम कंवर की भावुकता से भरी अपील का असर

Kolayat Bjp Candidate Poonam Kanwar
Kolayat Bjp Candidate Poonam Kanwar

बीकानेर मगरे का विधानसभा चुनाव इस बार कुछ बदला बदला सा है। कद्दावर नेता देवीसिंह भाटी की जगह उनकी पुत्रवधू स्व महेंद्र सिंह भाटी की पत्नी पूनम कंवर चुनाव मैदान में है । भाटी अपनी परंपरागत शैली के कारण जाने जाते है तो पूनम कंवर की पूरे चुनाव के दौरान भावुकता भरी अपील ने युवाओं व महिलाओं को अपनी और चुनावी सभाओं में खींचा । अब ये समय के गर्भ में है कि वो भीड़ वोटो में कितनी तब्दील होती है ।

पिछले कई दिनों से पूर्व सांसद स्व महेंद्र सिंह भाटी का नाम कोलायत में एक बार फिर लोगों की जुबान पर है । कोलायत में पोस्टरों पर स्व. भाटी के फोटो व स्टिकर नजर आ रहे है तो शोशल मीडिया पर भाजपा प्रत्याशी की अपील वायरल हुई है । जिसमे भाजपा प्रत्याशी द्वारा कहा गया है कि बरसों पहले बरसलपुर के भाटी परिवार की बड़ी बहू बनकर आप सब के परिवार का अंग बनी। आपके परिवार का सदस्य बनना मेरा सौभाग्य था, लेकिन काल की क्रूर दृष्टि ने आपके प्रिय नेता पूर्व सांसद स्वर्गीय महेंद्र सिंह भाटी को हमसे छीन लिया ये हम सब का दुर्भाग्य है। इस दुख की घड़ी में कोलायत की जनता के इस परिवार ने मुझे व्यक्तिगत रूप से जो संबल दिया उसको मैं कभी भुला नहीं सकती। वो घड़ी तो दुख की थी लेकिन संतोष इस बात का था कि मेरे कोलायत का परिवार मेरे साथ खड़ा है।

इस हादसे से पहले एक हादसा और हुआ था जिसमें मेरी सासु माँ हुकुम कमलेश कंवर जी, देवर जी रविंद्र सिंह जी भाटी का स्वर्गवास हो गया था। उस समय आपके बन्ना जी ने मुझे कहा की ईश्वर ने मेरी एक माँ व भाई को अपने पास बुलाया है, लेकिन वो नहीं जानता कोलायत में मुझे लाड व आशीर्वाद देने के लिए मेरी बुज़ुर्गो के हजारों हाथ खड़े हैं तो छोटे भाई का कर्तव्य निभाने के लिए हजारों युवाओं की फौज गांव-गांव में मौजूद है। मैं इन के बल पर दुनिया की किसी भी चुनौती से निपट सकता हूं। गलत नहीं कहते थे आपके बन्ना सा। दाता देवी सिंह भाटी के आदेश और पार्टी के निर्णय से मैं आप लोगों के समक्ष भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में आई। प्रचार के दौरान मैंने देखा कि कोलायत के भाई बहनों ने मुझे अपार स्नेह दिया। युवा शक्ति ने जिस जोश के साथ मेरा साथ दिया वह पल मुझे भावुक करने वाले थे। प्रचार अभियान के दौरान मैंने प्रत्येक मतदाता तक पहुंचने की कोशिश की। हजारों भाई-बहनों से मिली उनका स्नेह पाया, आप में से कईयों से मिलने का मुझे सौभाग्य नहीं मिला। पूनम कंवर ने ये भी कहा कि ये क्षत्राणी आप से वादा करती है की आपको अपने इस प्रतिनिधि से कभी शिकायत का मौका नहीं मिलेगा।राजनीति के पंडितो का कहना है कि इस तरह की अपील कोलायत के चुनाव में गहरा असर डाल सकती है।

हर बूथ पर रहेगी पैनी नजर, फोटोयुक्त मतदान पर्ची मददगार होगी साबित

चौधरी भाजपा में लौटे, रांका ने दिलाई सदस्यता