बॉर्डर पर ‘शहादत को सलाम’, गूंजेंगे देशभक्ति के तराने

bordar area file photo
bordar area file photo

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले 14 अगस्त को ‘शहादत को सलाम’ कार्यक्रम के तहत आयोजित होने वाली ‘मानव शृंखला’ में छत्तरगढ़ की खारवाली से कोलायत के बीकमपुर तक 166 किलोमीटर क्षेत्र में जिले के लगभग डेढ़ लाख लोग देशभक्ति और एकता का संदेश देंगे। जिला प्रशासन द्वारा इसकी तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया है। शनिवार को मुख्य सचिव डी. बी. गुप्ता ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से तैयारियों की समीक्षा की, वहीं जिला कलक्टर डॉ. एन. के. गुप्ता ने व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों की बैठक ली।

जिला कलक्टर ने बताया कि मानव शृंखला में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी हो, इसके लिए विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों, सरकारी कार्मिकों, स्कूल एवं कॉलेज विद्यार्थियों, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट, गाइड सहित विभिन्न वर्ग के लोगों को आमंत्रित किया गया है। जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक पांच किलोमीटर में एक नोडल तथा एक किलोमीटर में सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। पूरे रूट में आने वाले समस्त स्वास्थ्य केन्द्र इस दौरान खुले रहेंगे। यातायात तथा सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुलिस द्वारा समस्त तैयारियां कर ली गई हैं।

 देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रम

जिला कलक्टर ने बताया कि प्रत्येक दस किलोमीटर पर एक एम्बुलेंस मय स्टाफ तैनात रहेगी। इन्हीं स्थानों पर स्कूल के विद्यार्थी तथा स्थानीय कलाकार लोक संस्कृति और देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। देशभक्ति के गीतों का प्रसारण किया जाएगा। पूरे रूट में लगभग 2 लाख रंग-बिरंगे गुब्बारे लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर दी गई है।

एक बजे होगा राष्ट्रगान

‘शहादत को सलाम’ कार्यक्रम की समाप्ति दोपहर 1 बजे राष्ट्रगान के साथ होगी। बीकानेर सहित श्रीगंगानगर, जैसलमेर और बाड़मेर के लगभग 600 किलोमीटर सीमावर्ती क्षेत्र में लाखों लोग एक साथ राष्ट्रगान करेंगे। वहीं राज्य के अन्य जिलों में इस दौरान वार मेमोरियल अथवा जिला कलक्ट्रेट में कार्यक्रम होगा, जिसका समापन भी दोपहर 1 बजे राष्ट्रगान के साथ होगा। मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इस संबंध में निर्देश दिए।

शिक्षण संस्थाओं से की अपील

शनिवार को ही अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन ए. एच. गौरी की अध्यक्षता में निजी शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित हुई। गौरी ने सभी शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों से शहादत को सलाम कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में विद्यार्थियों की भागीदारी के लिए अपील की। उन्होंने कहा कि देशभक्ति से ओत-प्रोत इस कार्यक्रम में अधिक से बच्चों को लाएं, जिससे बच्चों में देशभक्ति की भावना जागृत हो। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजीत सिंह राजावत, अतिरिक्त जिला कलक्टर नगर शैलेन्द्र देवड़ा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. लालचंद कायल सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

सीवरेज बिछाने में चल रहा अनियमिताओं का खेल, जिम्मेदार मौन!