भूखंड आवंटन में धांधली, कलक्टर के सामने इस तरह खोली गई पोल…

Bikaner Collector
Bikaner Collector
बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। औद्योगिक क्षेत्र करणी विस्तार में भूखंडों के आवंटन में धांधली होने का आरोप लगाते हुए व्यापारियों का शिष्टमंडल शुक्रवार को जिला कलक्टर डॉ. एन. के. गुप्ता से मिला। इस दौरान कलक्टर को दिए ज्ञापन में व्यापारियों ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र करणी विस्तार बीकानेर के भूखंडों के आवंटन में हो रही धांधली को रोकते हुए पारदर्शिता एवं व्यावहारिकता अपनाई जाए।
ज्ञापन में बताया गया कि रिको मुख्यालय जयपुर द्वारा क्षेत्रीय कार्यालय बीकानेर को भूखंड आवंटन हेतु सूचना 12 सितम्ब 2018 को भिजवा दी जाती है, लेकिन बीकानेर के क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा इस सूचना को 18 सितम्बर 2018 को समाचार-पत्र में प्रकाशित किया गया। आवंटन प्रक्रिया को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर जारी किया गया है, जो कि सरासर गलत है। व्यापारियों ने बताया कि उन्हें पता चला है कि 18 सितम्बर 2018 को ही अधिकारियों के चहेतों ने अपना आवेदन जमा करवा दिया, जैसे इस आवंटन प्रक्रिया की जानकारी उनको पूर्व में ही मिल गई हो। व्यापारियों ने साफतौर से कहा कि ऐसा होना धांधली एवं भ्रष्टाचार की और इशारा करता है जबकि क्षेत्रीय कार्यालय को इसके लिए आवेदन मंगवाकर लौटरी प्रक्रिया को अपनाते हुए सभी उद्यमी/व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए पूर्ण पारदर्शिता रखनी चाहिए थी।
व्यापारियों का कहना है कि 18 सितम्बर को प्रकाशित सूचना के ठीक अगले दिन 19 सितम्बर को क्षेत्र में चल रहे मेलों के कारण बीकानेर प्रशासन द्वारा अवकाश घोषित था और पूरी स्कीम को समझने एवं क्रियान्विति के लिए केवल 20 सितम्बर का समय ही रह गया था। इसके बाद 21, 22 एवं 23 सितम्बर को फिर विभागीय अवकाश रहेगा और इस पूरी प्रक्रिया की अंतिम तिथि भी 24 सितम्बर रखी गई है। इस तरह इस प्रकार की छोटी अवधि यानि 6 दिन में भी 4 दिन अवकाश है और 2 दिन के इतने कम समय में कोई उद्यमी कैसे इतनी बड़ी रकम की व्यवस्था एवं कागजी कार्यवाही पूरी करें और कैसे ऑनलाइन सिस्टम से आवेदन करे? यह सब बातें पूर्णतया भ्रष्टाचार की और इंगित करती है।
व्यापारियों ने बताया कि आवंटन की इस पूरी प्रक्रिया के बारे में जब क्षेत्रीय कार्यालय रिको के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक से इस प्रक्रिया को जानने का प्रयास किया गया तो उनके द्वारा बिना किसी सवाल का जवाब दिए प्रक्रया के ऑनलाइन होने की एवं वेबसाईट से ही पूर्ण जानकारी प्राप्त करने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया गया। ज्ञापन देने गए शिष्टमंडल में बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल अध्यक्ष जुगल राठी, बीकानेर जिला उद्योग संघ अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचीसिया, कमल कल्ला, महेश कोठारी, सुभाष मित्तल, नरेश मित्तल एवं विनोद गोयल आदि शामिल थे।