सीएम चेहरे को लेकर रार : गहलोत ने भाजपा और मीडिया पर फोड़ा ठीकरा

629
Rajasthan former chief minister Ashok gahlot
Rajasthan former chief minister Ashok gahlot

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। विधानसभा चुनावों के मद्देनजर प्रदेश कांग्रेस में सीएम के चेहरे को लेकर चल रही खींचतान की खबरों पर पानी के छींटे डालते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव ने सारा ठीकरा भाजपा और मीडिया पर फोड़ दिया है। गहलोत ने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत में कहा है कि मीडिया का एक सेक्शन भाजपा के इशारे पर यह अभियान चला रहा है। हमारे नेता बोलते कुछ हैं और छपता कुछ है। यह भाजपा का अभियान है। हमें जानकारी में है, हमें एहसास है। यहां कोई भी झगड़ा नहीं हैं।

तीन दिन पहले उदयपुर में सीएम पद के लिए दावेदारी ठोककर जयपुर से दिल्ली तक हलचल मचाने वाले कांग्रेस के संगठन महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यू-टर्न लेते हुए कहा कि पार्टी हाईकमान चाहे तो पहले चेहरा घोषित करता है, वरना हमारी परंपरा रही है कि जनता के मन, विधायकों के मत और कार्यकर्ताओं की सोच के आधार पर हाईकमान फैसला करता है।

गहलोत ने आगे कहा कि मैं खुद एआईसीसी में महामंत्री संगठन हूं। मैं खुद कहता हूं कि देश के सभी राज्यों में किसी को अधिकार नहीं है कि वह खुद को अपना चेहरा प्रस्तुत करें मुख्यमंत्री के रूप में। ये कांग्रेस की परंपरा के खिलाफ होगा। मैंने यह नहीं कहा कि दस साल से चेहरा आपके सामने हैं। मैंने कहा था- दस साल मुख्यमंत्री रह चुका हूं। बार-बार आप लोग चेहरा की क्या बात करते हो। गहलोत ने कहा कि मीडिया ने अपनी रिसर्च से इसके अलग मायने निकाल लिए।

गहलोत ने कहा कि हमने कार्यकर्ताओं को कहा है कि वो कोई भी ऐसी बयानबाजी अतिउत्साह में अब नहीं करें औऱ कुछ कहना है तो हाईकमान या फिर अन्य नेताओं को बताए। गहलोत ने बताया कि टिकट मांगने का हक सबको है, लेकिन सब शालीनता में रहकर मांगें। चुनाव में उनकी भूमिका एक कार्यकर्ता के तौर पर होगी और जो भी आदेश हाईकमान देगा उसकी मैं पालना करुंगा। गहलोत ने कहा कि मेरी चाहत है कि हर सूरत में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनें।

गाय के लिए अब पसीज रहा दिल, केन्द्रीय मंत्री से मिले सांसद

रूठों को मनाने के लिए सीएम ने शुरू किया मंत्रणा का दौर