राजस्थान-मध्यप्रदेश के 38 जिलों में तेज बारिश का अलर्ट

976
Mansoon

नई दिल्ली/जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। देश में बीते २४ घंटे में पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर में सबसे ज्यादा 170 मिलीमीटर यानि 6.69 इंच बारिश दर्ज की गई है। इस बीच मौसम विभाग ने सोमवार को मध्यप्रदेश और राजस्थान के 38 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। हार्बर के अलावा राजस्थान के पिलानी में 133 मिलीमीटर (5.24 इंच) और मध्यप्रदेश के रतलाम में 105 मिलीमीटर (4.13 इंच) बारिश दर्ज की गई।

मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में अब तक सामान्य से 28 प्रतिशत ज्यादा बारिश हुई है। प्रदेश के 17 जिलों में बीते दो दिनों में भारी बारिश हुई है। मध्यप्रदेश के रतलाम जिले में अब तक 16.27 इंच बारिश दर्ज की गई। उधर, ग्वालियर में रविवार को सीजन की सबसे तेज बारिश हुई। यहां पांच घंटे में 72.7 (करीब 3 इंच) बारिश हुई। यहां गुप्तेश्वर पहाड़ी पर चार और पुरानी छावनी में एक मकान धराशायी होने से सात लोग जख्मी हो गए। ढोलीबुवा पुल के पास स्वर्णरेखा नदी में दो वाहन बह गए।

मध्यप्रदेश के इन 19 जिलों में अलर्ट

भोपाल, सागर, गुना, रतलाम, मंडला, इंदौर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, अशोकनगर, राजगढ़, रायसेन, सीहोर, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, मंडला, डिंडोरी और अनूपपुर।

राजस्थान के 19 जिलों में अलर्ट

अजमेर, बारां, भीलवाड़ा, बूंदी, बीकानेर, चूरू, जोधपुर, नागौर, चित्तौडग़ढ़, जयपुर, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़, टोंक में भारी से भारी बारिश की चेतावनी दी है। वहीं, अलवर, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, राजसमंद और पाली।

मध्यप्रदेश में तीन दिन तेज बारिश

मौसम विभाग ने राजधानी भोपाल समेत पूरे मध्यप्रदेश में अगले तीन दिन तेज बारिश होने की चेतावनी जारी की है। दक्षिणी झारखंड और उसके आसपास दबाव का क्षेत्र बना है। मंगलवार तक इसके पश्चिम-उत्तर दिशा में बढ़कर कमजोर पडऩे के आसार हैं। इससे राज्य के ज्यादातर पूर्वी हिस्सों में बारिश और कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।