निजी एजेंसी पता लगाएगी कौन है जिताऊ उम्मीदवार

469
congress
congress

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। राजस्थान विधानसभा के आगामी चुनावों को लेकर कांग्रेस कई नीतिगत निर्णय ले रही है। इसी क्रम में विभिन्न विधानसभा सभा क्षेत्र में जिताऊ उम्मीदवारों का पता लगाने के लिए निजी एजेंसी से सर्वे कराये जाने की बात सामने आई है। सर्वे में यह पता लगाया जाएगा कि कौन उम्मीदवार आमजन के बीच काम करने वाला है और कौन उम्मीदवार नहीं। कांग्रेस सूत्रों से यह भी पता चला है कि कांग्रेस इस बार अपने वरिष्ठ नेताओं के रिश्तेदारों को चुनाव टिकट नहीं देगी। यदि ऐसा हुआ तो प्रदेश में कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं का रोष पार्टी को झेलना पड़ सकता है।

पार्टी सूत्रों की मानें तो इस बार लगातार दो चुनाव हारने वालों को भी टिकट नहीं दिया जाएगा। फिलहाल करीब ऐसे 22 नेताओं के नाम सामने आ चुके हैं जो लगातार दो बार विधानसभा चुनाव हार चुके है। इनमें वरिष्ठ नेता डॉ. चंद्रभान, डॉ. बी. डी. कल्ला सरीखे नेताओं के नाम भी शामिल हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया है कि विधानसभा चुनाव के लिए संभावित प्रत्याशियों के नामों को लेकर पार्टी नेतृत्व ने कार्यकर्ताओं एवं समाज के प्रतिष्ठित लोगों से फीडबैक लेना शुरू कर दिया है। इसके अगले चरण में निजी एजेंसी के माध्यम से संभावित प्रत्याशियों को लेकर सर्वे भी कराया जाना प्रस्तावित है।

इसके अलावा प्रदेश से बाहरी नेताओं को प्रत्येक जिले में प्रभारी के रूप में तैनात कर जमीनी आंकलन कराया जाएगा। ये सभी नेता जून-जुलाई में विभिन्न जिलों का दौरा करेंगे। ये नेता दौरे के समय संभावित प्रत्याशियों के साथ ही चुनाव में भाजपा के खिलाफ उठाए जा सकने वाले मुद्दों का फीडबैक भी कार्यकर्ताओं से लेंगे। इस बार कांग्रेस कुछ विधानसभा सीटों पर भाजपा से पहले प्रत्याशी घोषित करने की रणनीति बना रही है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे के हवाले से मीडिया में आई खबर के अनुसार कांग्रेस ने नेताओं के रिश्तेदारों को टिकट नहीं देने का निर्णय पार्टी आलाकमान ने पहले ही कर लिया है। आम लोगों के बीच काम करने वाले कार्यकर्ताओं और नेताओं को चुनाव मैदान में उतारा जाएगा। पांडे ने यह भी बताया कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस बार आम लोगों के बीच काम करने वाले कार्यकर्ताओं को चुनाव लडऩे का अवसर देने की योजना बनाई है। उन्होंने बताया कि पार्टी ने चुनाव अभियान शुरू कर दिया है। पोलिंग बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं की टीम तैयार करने के लिए मेरा बूथ मेरा गौरव अभियान चलाया जा रहा है। प्रत्येक पोलिंग बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं की टीम तैयार हो गई है। अब मई माह से वरिष्ठ नेताओं के जिलों में दौरे प्रारम्भ हो जाएंगे।