सीएम की प्री-इलेक्शन फील्डिंग : 4 महीने, 20 जिले, 50 विधानसभा क्षेत्र

650
CM Vashundhara raje
CM Vashundhara raje

सुरेश बोड़ा/जयपुर/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज) प्रदेश में विधानसभा चुनाव भले ही छह माह दूर हो, लेकिन प्रमुख नेताओं ने इसे लेकर दौड़-धूप तेज कर दी है। खासतौर से सत्तारूढ़ भाजपा की बागडोर एक बार फिर अपने कंधों पर लेने वाली सीएम वसुंधरा राजे ने अपनी प्री-इलेक्शन फील्डिंग से सभी को चौंका दिया है। बीते चार महीनों की बात करें तो मुख्यमंत्री वसुंधरा ने प्रदेश के 20 जिलों के लगभग 50 से ज्यादा विधानसभा क्षेत्रों का दौरा किया है। इस दौरान उन्होंने जन संवाद और सभाएं भी की हैं।

बता दें कि प्रदेश में दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव में भाजपा को करारी हार का मुंह देखना पड़ा था। नतीजों के बाद से विपक्षी दल कांग्रेस ने जहां खुलेतौर पर तो भाजपा में ही वसुंधरा विरोधी धड़े ने सरकार की जमकर आलोचना शुरू कर दी। भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में भी इसे लेकर चिंतन मनन का दौर तेज हो गया था। इस बीच मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने स्थिति को भांपते हुए प्रदेश के दौरे की रणनीति बना ली।

इसी क्रम में वे जिलेवार दौरे कर अपनी जमीनी हकीकत का आकलन खुद ही कर रही है। इसके अलावा उन्होंने अपने मंत्रियों और विधायकों को भी जनसंवाद के लिए फील्डिंग करने के कड़े निर्देश दिए। फिलहाल मुख्यमंत्री वसुंधरा ने आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश की 200 में से 180 विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज कराने का लक्ष्य रखा है। वो इसके लिए बाकायदा कार्यकर्ताओं के बीच जाकर टारगेट-180 का नारा तक दे रही हैं।

पार्टी सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री वसुंधरा आने वाले दिनों में शेष जिलों के विधानसभा क्षेत्रों का भी दौरा करेंगी। इसके लिए उन्होंने जिला और देहात स्तर के पार्टी पदाधिकारियों के अलावा उक्त क्षेत्रों के विधायकों तथा मंत्रियों को दिशा-निर्देश भी दे रखे हैं। विधायकों को अपने क्षेत्र के प्रमुख मुद्दों को लेकर एक्सरसाइज करने को कहा गया है, ताकि जनसंवाद के दौरान उक्त मुद्दों पर मुख्यमंत्री अपना विजन बता सकें।

जल्द आएंगी बीकानेर

पार्टी सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अपने प्रदेश दौरे के अगले चरण में बीकानेर का दौरा कर सकती है। इसे लेकर पार्टी के पदाधिकारियों के अलावा विधायक भी सक्रिय नजर आ रहे हैं। बीकानेर के विभिन्न गंभीर मुद्दों को लेकर भी मुख्यमंत्री पूरी जानकारी जुटा रही है। खासतौर से बीकानेर शहर में रेल फाटकों की समस्या को लेकर प्रस्तावित एलिवेटेड रोड के मसले पर वो पूरी से अपडेट हो रही है। हाल में मुख्यमंत्री ने पूर्व मंत्री और कद्दावर भाजपा नेता देवीसिंह भाटी से भी लंबी मंत्रणा की है। उनकी यह मंत्रणा आने वाले दिनों में होने वाले दौरे के मद्देनजर देखी जा रही है।