प्री-बीएसटीसी के नतीजे घोषित, 20 हजार सीटों पर होगा प्रवेश

357

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने बुधवार को शिक्षा संकुल स्थित सभागार में बी.एस.टी.सी (प्री-बीएसटीसी डीएलएड) प्रवेश पूर्व परीक्षा का परिणाम घोषित किया। उन्होंने गुरू गोविंद जनजातीय विश्वविद्यालय, बांसवाड़ा द्वारा परीक्षा लिए जाने के एक माह के अंदर परीक्षा परिणाम जारी किए जाने पर बधाई देते हुए कहा कि जल्द ही बीएसटीसी सफल अभ्यर्थियों की काउंसलिंग प्रारंभ की जाएगी।

देवनानी ने बताया कि बीएसटीसी की परीक्षा 6 लाख 3 हजार 55 अभ्यर्थियों ने दी। इनमें तीन लाख तीन हजार 949 पुरुष तथा दो लाख 99 हजार 106 महिला अभ्यर्थी सम्मिलित हैं। अब बीएसटीसी की कुल 20 हजार 920 सीटों के लिए प्रवेश प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जाएगी। उन्होंने बताया कि इनमें बीएसटीसी सामान्य की 19 हजार 650, बीएसटीसी संस्कृत की एक हजार 220 तथा बीएसटीसी अल्पसंख्यक की 50 सीटों के लिए राज्य के 326 कॉलेजों में प्रवेश दिया जाएगा। इस समय बीएसीटीसी सामान्य के राज्य में 309, बीएसटीसी संस्कृत के 16 तथा बीएसटीसी अल्पसंख्यक का एक कॉलेज राज्य में हैं।

प्रदेश में इन्होंने बाजी मारी

गोविंद गुरू जनजातीय विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित बीएसटीसी परीक्षा के अंतर्गत प्री-डीएलएड सामान्य में राज्य के जालौर जिले के बालाना गांव के जयराम ने तथा बाड़मेर जिले की पूजा गौड़ ने सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया है। इसी प्रकार प्री-डीएलएड संस्कृत में टोंक जिले थालमपुरा के सुरेश कुमार सैनी ने तथा टोंक के ही निमाहेड़ा की प्रिया चौधरी ने सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया है। प्री-डीएलएड अल्पसंख्यक में टोंक के मालपुरा की समन जिया और अजमेर के मुसीब खान ने राज्यभर में सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया है।

इस मौके पर गोविंद गुरू जनजातीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. कैलाश सोडानी ने बताया कि राज्य के 33 जिलों के एक हजार 856 परीक्षा केन्द्रों पर 6 मई 2018 को राज्य सरकार के निर्देशानुसार प्रारंभिक शिक्षा में डिप्लोमा पाठ्यक्रम प्री-डीएलएड बीएसटीसी सीटों के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया था। विश्वविद्यालय ने परीक्षा कराने के एक माह के अंदर ही परीक्षा परिणाम जारी कर दिया।