पुलिस परीक्षा : सरगना सहित नौ जने पुलिस की गिरफ्त में

339
Breaking News
Breaking News

जयपुर/सीकर (अभय इंडिया न्यूज)। राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 2018 का प्रश्न पत्र उपलब्ध कराने के नाम पर बेरोजगार युवाओं से रुपए ऐंठने वाले गिरोह के सरगना सहित नौ जनों को पुलिस ने दबोच लिया है। ये गिरोह युवाओं से पांच से छह लाख रुपए वसूल रहा था। पुलिस ने गुरुवार देर रात कार्रवाई कर गिरोह के 9 सदस्यों को अपनी गिरफ्त में ले लिया। पुलिस ने इनके कब्जे से बड़ी संख्या में प्रवेश पत्र भी जब्त किए हंै। गिरोह के सदस्यों से पूछताछ में कई और राज भी खुल सकते हैं। साथ ही इसके नेटवर्क को भेदने में भी मदद मिल सकती है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. तेजपाल सिंह व पुलिस उपाधीक्षक गिरधारीलाल शर्मा ने बताया कि गिरफ्त में आए गिरोह के सदस्यों में जेरठी निवासी महावीर पुत्र धौलाराम, सांवलोदा धायलान निवासी सुभाष, राकेश जाट, उदयपुरा निवासी अशोक, तासर बड़ी निवासी संदीप कुमार, भैरूपुरा निवासी सुनील कुमार, खाटूश्यामजी निवासी जगदीश, दांतारामगढ़ निवासी आशाराम व उदयपुरा निवासी राममोहन शामिल हैं।

गौरतलब है कि पुलिस को क्षेत्र में गिरोह सक्रिय होने की सूचना मिली थी, इस पर पुलिस अधीक्षक विनीत कुमार ने विशेष टीमों का गठन कर संदिग्ध इलाकों में जाल फैला दिया। आखिरकार देर रात नौ जने पुलिस की गिरफ्त में आ गए। पुलिस के मुताबिक गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए भी तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं।

पुलिस की ओर से गिरोह सदस्यों से की गई प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगारों से पैसे वसूलते समय उन्हें यह भी झांसा देते थे कि यदि चयन नहीं हुआ तो रुपए वापस दे देंगे। इससे हले बेरोजगार अभ्यर्थियों से पुलिस को शिकायत मिली थी कि पुलिस भर्ती का प्रश्न पत्र उपलब्ध कराने के नाम पर गिरोह के सदस्य मोटी रकम वसूल रहे है। जिलेभर में गुरुवार रात को सर्च ऑपरेशन चलाया तो नौ युवकों को हिरासत में ले लिया गया।