पोषक तत्व मिलेेंगे तो पास नहीं फटकेंगे रोग

डॉ. श्याम अग्रवाल हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर में संगोष्ठी को संबोधित करते डॉ. महेश शर्मा।
डॉ. श्याम अग्रवाल हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर में संगोष्ठी को संबोधित करते डॉ. महेश शर्मा।

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। जस्सूसर गेट के बाहर स्थित डॉ. श्याम अग्रवाल हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर में बच्चों में पोषक तत्वों के महत्व पर संगोष्ठी आयोजित की गई। संगोष्ठी में मुख्य अतिथि वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. महेश शर्मा ने शिशु के पहले दो वर्ष के दौरान पोषक तत्व के महत्व पर प्रकाश डाला।

डॉ. शर्मा ने कहा कि बच्चों को यदि उपयुक्त पोषक तत्व मिलेंगे तो उनकी बढ़त भी अच्छी होगी और दिमाग का विकास होगा। सही पोषण से बीमारियों से लडऩे की शक्ति मिलती है और बार-बार बीमार नहीं पड़ते। पोषण से ही बार-बार बीमार होने से बचा जा सकता है और कुपोषण के दायरे से मुक्ति भी पाई जा सकती है। सही पोषण से बीमारी नहीं होती, इसका असर एक व्यक्ति के जीवन पर देखने को मिलता है। बच्चों की एकाग्रता बढ़ जाती है और पढ़ाई में मन लगता है।

संगोष्ठी में शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. नरेद्र पारीक ने अभिभावकों के पोषक तत्व को लेकर पूछे गए सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि शिशु को पोषक तत्व मिलेंगे तो रोग उनके पास भी नहीं फटकेंगे। हॉस्पीटल के प्रबंधक डॉ. श्याम अग्रवाल ने कहा कि डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ और अभिभावकों की सहभागिता से शिशुओं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ाई जा सकती है। डॉ. अग्रवाल ने कहा कि शिशुओं में पोषक तत्वों की आवश्यकता को लेकर सभी अभिभावकों को गंभीर होने की जरूरत है। हॉस्पीटल की ओर से भी समय-समय पर इस विषय पर आयोजन किए जाते हैं ताकि अभिभावक शिशु के स्वास्थ्य के प्रति गंभीर हो सकते।