माहेश्वरी सदन में गवरजा के गीतों की धूम

बीकानेर के माहेश्वरी सदन में आयोजित गवरजा गीतमाला में भाग लेती महिलाएं।
बीकानेर के माहेश्वरी सदन में आयोजित गवरजा गीतमाला में भाग लेती महिलाएं। फोटो : संजय बोड़ा
गवरजा गीतमाला में शामिल प्रीति क्लब के पदाधिकारी।
गवरजा गीतमाला में शामिल प्रीति क्लब के पदाधिकारी।

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। पारिवारिक संस्था श्रीप्रीति क्लब द्वारा आयोजित ‘गवरजा गीत माला-2018’ का कार्यक्रम स्थानीय जस्सूसर गेट के बाहर स्थित माहेश्वरी सदन में बड़े उल्लासपूर्ण वातावरण में मनाया गया। आयोजन से जुड़े पवन राठी ने बताया कि कार्यक्रम के प्रारंभ में श्रीप्रीति क्लब की महिला सदस्याओं ने माँ गवरजा की पूजा-अर्चना कर माँ गवरजा के खोल भरने की रस्म निभाई।

प्रीति क्लब के महामंत्री नारायण दास दम्माणी के अनुसार कार्यक्रम का आगाज मंगलाचरण गीत से किया गया, जिसमें प्रीति क्लब के सभी सदस्यों ने संरक्षक मगनलाल चांडक के नेतृत्व में अपनी शानदार प्रस्तुति दी। क्लब के अध्यक्ष घनश्याम कल्याणी ने अपने उद्बोधन में सभी आगन्तुकों का स्वागत किया। कार्यक्रम के प्रमुख संयोजक अशोक बागड़ी ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर श्रीप्रीति क्लब द्वारा गवरजा गीत माला के द्वितीय संस्करण का प्रकाशन माहेश्वरी समाज के विशिष्ट लोगों द्वारा किया गया। इस अवसर पर माहेश्वरी समाज की विभिन्न 10 मंडलियों ने गवरजा माता के गीत-गायन प्रतियोगिता में भाग लिया। सम्पूर्ण कार्यक्रम में समाज के सभी पुरुषों ने जहां एक ओर सिर पर केसरिया पाग व सफेद कुर्ता-पाजामा पहन रखा था वहीं महिलाओं ने केसरिया परिधान धारण किये हुए राजस्थानी संस्कृति व माहेश्वरी समाज की अपनी अनूठी पहचान को बनाये रखने में विशेष योगदान दिया। सम्पूर्ण कार्यक्रम का सफल संचालन श्रीप्रीति क्लब के महामंत्री नारायण दास दम्माणी तथा कार्यक्रम संयोजक अशोक बागड़ी ने संयुक्त रूप से किया।

गवरजा गीत माला गायन प्रतियोगिता में प्रथम 3 स्थान प्राप्त करने वाली मण्डलियों में प्रथम स्थान आरती मोहता गु्रप, द्वितीय स्थान अनु पेडि़वाल गु्रप तथा तृतीय स्थान प्रिया झंवर गु्रप ने प्राप्त किया। विजेता प्रतिभागियों को कूल एण्ड कूल आईसक्रीम की तरफ से गिफ्ट हैम्पर दिये गये। क्लब के वरिष्ठ सदस्य याज्ञवल्क्य दम्माणी ने बताया कि निर्णायक मण्डल के रूप में सुशील दम्माणी, सुधा सोनी व ताराचंद दरगड़ ने सराहनीय भूमिका निभाई। देर रात तक चले इस कार्यक्रम में माहेश्वरी समाज के विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारियों ने भाग लिया, वहीं मुख्य रूप से मनमोहन कल्याणी, नरसिंह बिन्नाणी, नारायण डागा, राजेन्द्र चांडक, किरण झंवर, जुगल राठी, मनमोहन लोहिया, निखिल दम्माणी, रामकुमार मूंदड़ा, किशन कुमार दम्माणी, जगदीश कोठारी, किशन गोपाल सोमाणी, अनिल चांडक, श्याम सुन्दर चांडक (पार्षद), पवन राठी, लक्ष्मी दम्माणी, कामिनी कल्याणी, शीला डागा, सपना बागड़ी, रमेश करनाणी, द्वारका प्रसाद राठी, नवनीत बागड़ी, राजेश मोहता, नवल राठी, बृजमोहन चांडक, दाऊलाल बिन्नाणी, ममता राठी आदि प्रमुख थे। कार्यक्रम के अंत में याज्ञवल्क्य दम्माणी ने सभी आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया।