गायब हुई महिला के मामले की जांच एस.आई.टी. करेगी

ram rahim
ram rahim

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। हरियाणा के सिरसा स्थित गुरमीत राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा से गायब हुई जयपुर की एक महिला के मामले की जांच एसआईटी करेगी। राजस्थान उच्च न्यायालय ने मामले की जांच के लिए एस.आई.टी. गठित करने के निर्देश दिए है। न्यायाधीश के. एस. अहलुवालिया ने गायब महिला गुड्डी के पति कमलेश कुमार की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह निर्देश दिए।

अदालत ने इस मामले में पुलिस की जांच पर नाराजगी भी जताई। पुलिस को जांच रिपोर्ट सात मई तक न्यायालय में जमा करानी है। गौरतलब है कि कमलेश कुमार और उसकी पत्नी गुड्डी देवी 24 मार्च 2015 में सिरसा स्थित राम रहीम के आश्रम में सत्संग में शामिल होने गए थे। उसके अगले दिन 25 मार्च को वे सत्संग में बैठे थे तो एक सेवादार उनके पास आया और बोला की गुड्डी को डेरे के एमडी डी.पी.एस. दत्ता बुला रहे हैं। इस पर वो सेवादार के साथ चली गई और इसके बाद से उसका कोई अता-पता नहीं चल पाया। पति कमलेश कुमार ने डेरे के सेवादारों से उसके बारे में जानना चाहा तो उसे यह कह कर जयपुर भेज दिया की उसकी पत्नी स्वयं ही वहां आ जाएगी और अभी वह राम रहीम की भक्ति में लीन है। इसके बाद से कमलेश कुमार को गुड्डी देवी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। बताया जाता है कि दिसम्बर 2015 में कमलेश कुमार ने जयपुर के जवाहर नगर पुलिस थाने में शिकायत की तो उस पर ध्यान नहीं दिया गया। आखिरकार वर्ष 2017 के अंत में कमलेश कुमार ने न्यायालय में याचिका दायर कर अपनी पत्नी की तलाशी के लिए पुलिस को निर्देश देने का आग्रह किया।

बता दें कि राम रहीम फिलहाल जेल में बंद है। उसके खिलाफ सजा सुनाए जाने के बाद कई मामलों की परतें खुलनी शुरू हो गई। हरियाणा ही नहीं, बल्कि राजस्थान सरकार भी राम रहीम से जुड़े मामलों में कुछ गंभीर हुई। इसके चलते कई पीडि़तों को अब न्याय की उम्मीद नजर आ रही है।