मंत्रियों-विधायकों को निर्देश, अब खुद रिसीव करो फोन

416

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भाजपा नेतृत्व पूरी तरह सक्रिय नजर आ रहा है। आमजन और कार्यकर्ताओं की शिकायतों को दूर करने के लिए आए दिन नए-नए निर्देश जारी हो रहे हैं। इसी क्रम में प्रदेश सरकार के मंत्रियों और भाजपा विधायकों को अब अपने मोबाइल फोन खुद रिसीव करने के निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा नेतृत्व को पता चला है कि अब तक मंत्रियों और विधायकों के मोबाइल फोन उनके निजी सहायक के पास होते हैं और वे ही रिसीव करते हैं। अब पार्टी नेतृत्व ने सभी मंत्रियों और विधायकों को नए निर्देश दे दिए हैं। इसके तहत घर और कार्यालय के टेलीफोन पर आने वाली कॉल पर भी उनकी जवाबदेही तय की गई है। टेलीफोन पर आने वाली कॉल के दौरान यदि वे उपलब्ध नहीं होते हैं तो उन्हें उक्त नंबरों पर रिटर्न कॉल करनी होगी।

भाजपा विधायक दल के मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर के हवाले से मीडिया में आई खबर के मुताबिक पार्टी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री से मिले निर्देशों का पालन करने के लिए पार्टी के सभी विधायकों को अवगत करा दिया गया है। गौरतलब है कि पार्टी नेतृत्व को कुछ दिनों पहले ही यह फीडबैक मिला था कि मंत्री और विधायक अपने मोबाइल फोन निजी सहायक के पास रखते हैं, इस कारण सीधे उनसे संपर्क नहीं साधा सकता। इस आशय की शिकायत भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से प्रदेश संगठन महामंत्री से भी की गई थी।

बताया जाता है कि इसके बाद ही मंत्रियों और विधायकों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इसके अलावा एक और निर्देश जारी हुआ है। इसके अंतर्गत मंत्रियों को जयपुर में रहने के दौरान शासन सचिवालय स्थित अपने कक्ष में बैठने और माह में तीन दिन अपने प्रभार वाले जिलों व सप्ताह में एक दिन अपने विधानसभा क्षेत्रों में रहने के लिए कहा गया है।