आसाराम के मामले में आने वाली है फैसले की घड़ी

589
asharam Fie Photo
asharam Fie Photo

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। नाबालिग से यौन उत्पीडऩ के आरोप में जोधपुर के केन्द्रीय कारागार में बंद आसाराम के मामले में फैसले की घड़ी जल्द ही आने वाली है। आसाराम पिछले करीब पांच साल से जेल में बंद है। जोधपुर में अनुसूचित जाति, जनजाति मामलात के विशेष न्यायालय में आसाराम और शिल्पी के अधिवक्ता सज्जनराज सुराणा ने दोनों आरोपियों की ओर से अंतिम बहस हाल ही में पूरी कर ली है।

बताया जाता है कि अब इस मामले के एक अन्य आरोपी और आसाराम के सेवादार शिवा के अधिवक्ता ने अंतिम बहस शुरू की है। शिवा की ओर से अंतिम बहस पूरी किए जाने के बाद आरोपी प्रकाश के अधिवक्ता अंतिम बहस करेंगे। विधि के जानकारों की मानें तो बचाव पक्ष की ओर से अंतिम बहस पूरी होने के बाद अभियोजन पक्ष की ओर से बहस की जाएगी। इस मामले में सुनवाई और बहस का दौर इसी माह के अंत तक पूरा हो जाएगा। यानी अप्रेल तक यह मामला फैसले की दहलीज तक पहुंच सकता है।

गौरतलब है कि जोधपुर स्थित आसाराम के आश्रम में नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला मार्च 2013 में उजागर हुआ था। इस मामले में पुलिस ने 31 अगस्त 2013 को इंदौर के आश्रम से आसाराम को गिरफ्तार कर लिया था। बाद में एक सितम्बर 2013 को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया था। तब से यह मामला विचाराधीन है।