मैंने देखी गरीबी, मां कोयले जलाकर सेंकती थीं रोटियां : हेमा

363
hema
hema

मथुरा। उत्तरप्रदेश के मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने यहां कहा कि एक समय था जब मेरी मां भी बाल्टी से बनी अंगीठी पर कच्चे कोयले जलाकर रोटियां सेंकती थीं। ऐसे में उन्हें भी इस बात का अहसास है कि गरीबी क्या होती है। यह बातें उन्होंने सराय आजमाबाद क्षेत्र स्थित एक गैस एजेंसी पर बोलते हुए कहीं जहां महिलाओं को गैस कनेक्शन बांटे गए।

मालिनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम के तहत उज्ज्वला योजना के जरिए हजारों महिलाओं को सम्मान स्वरूप निशुल्क गैस कनेक्शन देकर वह खुद को बेहद गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। हेमा ने बच्चों पर बढ़ते अपराध पर कहा कि आजकल ऐसे मामलों की ज्यादा पब्लिसिटी हो रही है। पहले भी शायद हो रहा होगा, मालूम नहीं था। जो हादसे हो रहे हैं, वे नहीं होने चाहिए। इससे देश का नाम भी खराब होता है। इन दिनों कठुआ, उन्नाव, सूरत और मध्य प्रदेश में नाबालिग और बच्चों के साथ रेप और हत्या के मामले सुर्खियों में बने हुए हैं। इंदौर में चार महीने की बच्ची से रेप के बाद बेरहमी से हत्या के मामले ने सबको भीतर से झकझोर दिया है।

वृंदावन की कोठी में किया गृह प्रवेश

वृंदावन के छटीकरा रोड पर स्थित ओमेक्स सिटी में पिछले करीब दो साल से चल रहे निर्माण कार्य के बाद हेमा मालिनी की आलीशान कोठी बनकर तैयार हो गई। बीते शुक्रवार को उन्होंने अपने पति धर्मेंद्र संग विधि-विधान से पूजा-पाठ के साथ नए घर में गृह प्रवेश किया था।