फोर्टिस डीटीएम अस्पताल में पेसमेकर प्रत्यर्पण से दुरुस्त हुआ दिल

332
Bikaner Fortis DTM Hospital
Bikaner Fortis DTM Hospital

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। रानी बाजार स्थित फोर्टिस डीटीएम अस्पताल में हृदय रोग उपचार के लिए पेसमेकर प्रत्यर्पण संभव हुआ। फोर्टिस बीकानेर के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. रामेश्वर बिश्नोई ने 22 वर्षीय युवक के जन्मजात कम्प्लीट हार्ट ब्लॉक अथवा दिल की धड़कन कम होने की समस्या का सरलता पूर्वक पेसमेकर प्रत्यर्पण द्वारा सफल इलाज संभव किया।

22 वर्षीय मनोज कुमार को पिछले कुछ महीनों से बार-बार चक्कर आने सम्बन्धी दिक्कत आ रही थी। उन्होंने कई चिकित्सकों से संपर्क साधा परन्तु कोई भी चिकित्सक उनकी बीमारी नहीं पकड़ पाया। फिर जब उन्होंने फोर्टिस डीटीएम अस्पताल में डॉ. रामेश्वर बिश्नोई से संपर्क किया तो उन्होंने अपनी जाँच में उनके हृदय की धड़कन को कम पाया या अन्य शब्दों में इसे परिभाषित करें तो उनके जन्मजात कम्प्लीट हार्ट ब्लॉक नामक विकार था।

फिर डॉ. बिश्नोई ने रोगी की सही तरीके से अन्य जांचे करके उक्त रोगी को परमानेंट पेसमेकर के लिए उपयुक्त पाते हुए रोगी के हृदय में परमानेंट पेसमेकर प्रत्यारोपित कर रोगी की समस्या के लिए सफलतापूर्वक इलाज प्रदान किया। मनोज कुमार को 2 दिन की देखभाल के बाद स्वास्थ्य में सुधार पाए जाने पर छुट्टी देकर घर भेज दिया गया।

वैसे तो यह बीमारी कम उम्र में घातक नहीं होती परन्तु जब इसके लक्षण दिखाई पडऩे लगे और रोगी को इसके लिए उचित समय पर इलाज न मिल पाए तो ऐसी स्थिति में रोगी को जान का खतरा भी रहता है। आमतौर पर यह बीमारी उम्रदराज लोगों में पाई जाती है परन्तु कम उम्र में यह बीमारी आनुवांशिक कारणों से होती है।

अस्पताल के डायरेक्टर ऋषि कपूर ने बताया की हृदय रोग चिकित्सा में नविन तकनीक और दक्ष चिकित्सकों के सहयोग से इलाज में आने वाली वित्तीय बाधाओं को दूर करते हुए जटिल से जटिल समस्या का समाधान उचित दरों पर बीकानेर के भीतर मुहैया करवाना फोर्टिस की पहली प्रतिबद्धता है।