पर्यावरण संरक्षण का संदेश देती हरियाली अमावस्या, जानिये राशि अनुसार फल

सावन मास में कृष्ण पक्ष अमावस्या को हरियाली अमावस्या के नाम से जाना जाता है। यह अमावस्या पर्यावरण के संरक्षण के महत्व व आवश्यकता को भी प्रदर्शित करती है। इस विशेष दिन का असर 12 राशियों पर भी पड़ता है। आइए जानते हैं राशियों पर इसका क्या प्रभाव पड़ता है -:

मेष : आपको इस समय विवादित सौदों में पूंजी निवेश से बचना चाहिए। उपाय-शनि अमावस्या के दिन गरीबों को सरसों के तेल का दान करें।

वृषभ- आपको पारिवारिक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। उपाय-शनि अमावस्या के दिन श्रद्धानुसार ज्वार गरीब व गौशाला में दान देना चाहिए।

मिथुन : कारोबार में लाभ और विवादों से पीछा छूटेगा। उपाय-शनि अमावस्या के दिन उड़द के आटे की गोलियां बनाकर मछलियों को डालें।

कर्क : सरकार से लाभ होगा और विघ्न और परेशानियों से छुटकारा मिलेगा। उपाय-शनि अमावस्या के दिन भगवान शिव के शिवलिंग पर बेलपत्र अर्पित करें। गरीब और अपाहिजों को भोजन कराना श्रेयस्कर।

सिंह : काम में अनुकूल फल प्राप्त नहीं होंगे। साझेदारी के कार्यों में सावधानी बरतें। उपाय-शनि अमावस्या के दिन मां भगवती के श्रीचरणों में गुलाब के 108 पुष्प अर्पित करें। श्री शनिदेव के श्रीचरणों में तेल चढ़ाएं।

कन्या : अनुकूल कार्य परिवर्तन एवं कोर्ट-कचहरी के मामले हल होंगे। उपाय-शनि अमावस्या के दिन वट वृक्ष के पेड़ में जल अर्पित करें। तवा, अंगीठी व काले कपड़े का दान करना श्रेष्ठ।

तुला : आपकी आय के साधनों में वृद्धि होगी और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का निवारण होगा। उपाय-शनि अमावस्या के दिन गरीब कन्याओं को दूध और दही का दान दें। साथ ही शनि मंदिर जरूर जाएं।

वृश्चिक आपको पिछली समस्याओं से पीछा छूटेगा और मित्रों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। उपाय-शनि अमावस्या के दिन नैतिकता का दामन पकड़े। साथ ही पीपल के पेड़ में जल चढ़ाएं।

धनु : कम प्रयत्न और लाभ अधिक होगा। आय के साधन बढ़ेंगे, लेकिन दुर्घटनाओं से सावधान। उपाय-शनि अमावस्या के दिन श्रद्धानुसार अंधे व्यक्ति को भोजन कराना लाभकारी रहेगा।

मकर : व्यर्थ के भ्रम, भ्रांति और भय से बाहर आना होगा। अहम और ईष्र्या नुकसान देगी। परंतु गुजारे लायक धन की प्राप्ति अवश्य होगी। उपाय-शनि अमावस्या के दिन श्रद्धानुसार बाजारा पक्षियों को डालें।

कुंभ : रुके हुए कार्य बनेंगे। राजनीतिक वर्चस्व बढ़ेगा। सामाजिक सुयश की प्राप्ति भी होगी। उपाय-शनि अमावस्या के दिन 800 ग्राम दूध अपने ऊपर से 8 बार उसार करके 800 ग्राम उड़द के साथ बहते पानी में प्रवाह कर दें।

मीन : व्यवसाय में सफलता, सामाजिक दायरों में वृद्धि का प्रबल योग। उपाय-शनि अमावस्या के दिन मिट्टी के पात्र में श्रद्धानुसार शहद भरकर मंदिर में रखकर आ जाएं या वीराने में दबा दें।

मिलेगा शिव पूजन का सारा पुण्य

अगर आप पूरे श्रावण मास में विधिवत पूजन का समय नहीं निकाल पा रहे हैं तो आप ओम नम: शिवाय: सहित आठ ऐसे पौराणिक और तांत्रिक मंत्र जपें। इससे आपको उतना ही पुण्य मिलेगा, जितना कि विधिवत शिव पूजा का मिलता है।

सावन : पूजा में इन बातों का रखें ध्यान, हो जाएगा मनचाहा काम