शहरभर में गणेश चतुर्थी की धूम, यहां कर सकते हैं सभी मंदिरों के दर्शन

175

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। शहर में गुरुवार को श्रीगणेश चतुर्थी धूमधाम से मनाई गई। घर-घर गणेशजी की प्रतिमा का शृंगार कर पूजन किया गया। रंग-बिरंगी रोशनियों और चारों ओर महकते फूलों से सजे मंदिरों में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। रात्रि में मंदिरों में भक्ति संगीत कार्यक्रम आयोजित हुए।

श्रीबड़ा गणेश मंदिर

ShriBada Ganesh Ji Mandir
ShriBada Ganesh Ji Mandir

बीकानेर नत्थूसर गेट के बाहर स्थित श्रीबड़ा गणेश मंदिर में गणेश चतुर्थी पर विशेष शृंगार व पूजन किया गया। मंदिर में दोपहर 12 बजे महाआरती का आयोजन किया गया। अब रात में जागरण का आयोजन होगा। भक्तों के लिए डेढ क्विंटल बूंदी और 2 क्विंटल पंचामृत और 3000 के आस पास कचौरी की व्यवस्था की गई है।

श्रीआदि गणेश मंदिर

ShriAadi Ganesh Ji Mandir
ShriAadi Ganesh Ji Mandir

बीकानेर दाऊजी रोड स्थित आदि गणेश जी मंदिर में सुबह सोने के वर्क से भगवान गणेश की प्रतिमा का शृंगार किया गया। दोपहर 12 बजे की आरती के समय गणेश प्रतिमा के साथ रिद्धि-सिद्धि के भी चांदी वर्क से शृंगार कर आरती की गई। भक्तों के लिए डेढ़ क्विंटल पंचामृत और पांच क्विंटल प्रसाद की व्यवस्था की गई है। पुजारी व्यास ने बताया कि प्रमोद बिस्सा, लक्ष्मीनाथ रंगा, कैलाश पारीक, विजय श्रीमाली, राजेन्द्र व्यास, अशोक बांठिया, राम व्यास आदि पुजारी पूजन व जागरण में शामिल रहेंगे।

श्रीकान गणेश जी मंदिर

ShriKaan Ganesh Ji Mandir
ShriKaan Ganesh Ji Mandir

बीकानेर डूडी पैट्रोल पंप के पास स्थित कान गणेश जी मंदिर में चांदी के वर्क से शृंगार कर जन्म आरती का भी आयोजन हुआ। पूजारी श्याम गहलोत ने बताया सुबह आरती से लेकर रात को जागरण तक भक्तों में 31 किलो पंचामृत और 501 किलो प्रसाद भक्तों में बांटा जाएगा।

कोटगेट पर गणेश प्रतिमा

Kotgate Ganesh Ji
Kotgate Ganesh Ji

बीकानेर के रियासतकालीन दरवाजे कोटगेट पर स्थापित गणेश प्रतिमा की पूजा-अर्चना की गई। यहां पिछले 65 वर्षों से केला पुरोहित परिवार पूजन करते आ रहे है। इस साल भी रिखब दास और गिरधारी लाल पुरोहित के सानिध्य में प्रतिमा का शृंगार और आरती की गई।

श्रीगणेश धोरा भीनासर

ShriGanesh Dhora Bhinasar
ShriGanesh Dhora Bhinasar

भीनासर स्थित बीकानेर के प्रसिद्ध गणेश धोरा धाम गणेश मंदिर में गुरु शिव भगवान शर्मा के सानिध्य में गणेश चतुर्थी पर विशेष आरती, भण्डारे व जागरण का आयोजन किया गया। संयोजक सत्यनारायण भोजक ने बताया कि इस मौके पर मंदिर को रंग रोगन कर विशेष लाइटों से सजाया गया है। साथ ही मंदिर में भगवान गणेश के विशेष शृंगार, पूजन व आरती का आयोजन किया गया।