गहलोत ने चेताया- अफसर हो जाएं सतर्क, नहीं तो होगी दिक्कत

927
vasundhara raje and ashok gahlot
vasundhara raje and ashok gahlot

जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के महासचिव अशोक गहलोत ने केंद्र और राज्य की भाजपा सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार बदलने के बाद जांच में खुलासा हो जाएगा, इसलिए अफसर सतर्क रहें, नहीं तो उन्हें दिक्कत हो सकती है।

प्रेस वार्ता में गहलोत ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला बोलते हुए कहा कि आरएसएस एक्स्ट्रा संविधान के रूप में काम कर रहा है। उनकी सिफारिश से ही सब कुछ हो रहा है। सरकार शासन करने में नाकाम साबित हो रही है। केंद्र और राज्य के नेताओं के बीच मतभेद सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज मुल्क में हालात ऐसे हो गए हैं कि कोई खुली हवाओं में सांस नहीं ले पा रहा है। देश में डर और नफरत का माहौल है, हर वर्ग सरकार से दुखी है। रेप के मामले में रिकॉर्ड बन गया है।

दलितों के घर खाना भाजपा के नेताओं का ढोंग है, ये उनकी मानसिकता का परिचय देता है। बीते दो अप्रैल का भारत बंद सरकार की सोची समझी साजिश था। बंद के मद्देनजर सरकार ने सुरक्षा के कोई माकूल इंतजाम नहीं किए। निजी स्कूलों की फीस पर गहलोत ने कहा कि आरटीई की सही तरीके से अनुपालना नहीं हो रही है।

गहलोत ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में भाजपा कार्यालय के लिए जमीन आवंटन के नाम पर बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है। नोटबंदी के बाद कई बड़े खेल खेल गए, हर जिले में पार्टी कार्यालय के लिए ज़मीनें खरीदी गई। ये इसकी चिंता नहीं करते कि लोग क्या कहेंगे?