10 माह से समस्या जस की तस, भाटी ने तीसरी बार दी धरने की चेतावनी

953
Bjp Leader Devi Singh Bhati
Bjp Leader Devi Singh Bhati

सुरेश बोड़ा/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। पूर्व मंत्री और भाजपा के कद्दावर नेता देवीसिंह भाटी ने राष्ट्रीय राजमार्ग 15 पर बेतरतीब ढंग से खड़े भारी वाहनों को हटाने की मांग को लेकर जिला प्रशासन को एक बार फिर धरने पर बैठने की चेतावनी दी है। भाटी ने कहा है कि उक्त समस्या का निदान नहीं हुआ तो वे 27 जुलाई को कलक्ट्रेट के समक्ष धरने पर बैठेंगे।

इससे पहले भी पूर्व मंत्री भाटी ने उक्त समस्या को लेकर धरने की चेतावनी दी थी, लेकिन तब प्रशासन ने फौरी तौर पर राष्ट्रीय राजमार्ग 15 पर कुछ दिन कार्रवाई करके अपने दायित्व की इतिश्री कर ली। राजमार्ग पर अब भी बड़ी संख्या में ओवरलोड वाहनों का जमावड़ा चौबीसों घंटे लगा रहता है। खासतौर से उरमूल सर्किल, राजस्थान पत्रिका कार्यालय के पास, कोठारी अस्पताल, डूडी पेट्रोल पंप, पुरानी चुंगी चौकी, करमीसर तिराहा, मौसम विभाग तिराहा पर राजमार्ग के दोनों ओर सड़क पर ओवरलोड वाहनों के जमावड़े से यातायात व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हो रही है। आए दिन सड़क हादसे हो रहे हैं। घंटों तक जाम लगने से इस भीषण गर्मी में लोगों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

दस माह पहले भी चेताया

पूर्व मंत्री भाटी ने इससे पहले 3 अक्टूबर 2017 को भी जिला प्रशासन को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 15 पर भारी वाहनों को हटाने की मांग को लेकर धरने की चेतावनी दी थी। तब सार्वजनिक निर्माण मंत्री युनूस खान के साथ वार्ता भी हुई। इसके कुछ दिन तो राजमार्ग पर व्यवस्था सही रही, लेकिन बाद में फिर हालात पूर्व जैसे ही बन गए। इसके बाद भाटी बीते अप्रेल में भी इसी मुद्दे को लेकर धरने की चेतावनी दी थी। इस पर भी प्रशासन ने समस्या का स्थायी समाधान नहीं किया। अब भाटी ने एक फिर धरने की चेतावनी देते हुए प्रशासन का ध्यान इस समस्या की ओर आकृष्ट कर दिया है।

राजमार्ग पर अराजकता के हाल

राष्ट्रीय राजमार्ग 15 पर लंबे समय से अराजकता के हाल है। करमीसर तिराहे के पास चौबीस घंटे ओवरलोड वाहन सड़क पर खड़े रहते हैं, इसके बावजूद डीटीओ और आरटीओ की ओर से चालान की कार्रवाई नहीं की जाती। बीच सड़क खड़े वाहनों को हटाने के लिए भी पुलिस का नियमित जाब्ता मौके पर तैनात नहीं रहता। इससे हर समय यातायात बाधित रहता है।