मुठभेड़ : बरसात में भिगो-भिगो कर मारे 14 नक्सली

229

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा में भरी बरसात में पहली बार पुलिस और सुरक्षाबलों की टीम ने जंगल में मोर्चे पर उतरते हुए 14 नक्सलियों को मार गिराया। नक्सलियों से मुठभेड़ के दौरान 16 हथियार भी बरामद किए हैं। यह मुठभेड़ नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के गोलापल्ली थाना क्षेत्र के जंगलों में हुई। फिलहाल सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी करते हुए छानबीन तेज कर दी है। एसपी अभिषेक मीणा ने घटना की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि मौके पर करीब 200 नक्सली मौजूद थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गोलापल्ली थाना इलाके से सोमवार की सुबह जवान सर्चिंग पर निकले थे। इस दरम्यान नक्सलियों से उनका सामना हो गया। दोनों तरफ से तकरीबन एक घंटे तक गोलीबारी चलती रही। इसके बाद नक्सलियों की ओर से फायरिंग बंद हो गई। जवानों को मोर्चे पर भारी पड़ता देख नक्सली वहां से भाग खड़े हुए।

इलाके में नक्सलियों के जमावड़े को देखते हुए अब मुठभेड़ के बाद सघन सर्चिंग भी जारी है। जवान जंगलों में अंदर तक घुसकर नक्सली मांद को ढ़ूंढऩे में जुट गए हैं। गौरतलब है कि पहली दफा तेज बरसात के दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा बस्तर में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के दौरान कई नक्सलियों ने खुद सामने आकर आत्मसमर्पण करना भी शुरू कर दिया है।

हाल में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह घोषणा कर चुके हैं कि नक्सली या तो आत्मसमर्पण करें, नहीं तो फोर्स उन्हें मारने के लिए बिल्कुल तैयार है। इसके पहले सरकार लगातार यह कहती रही है कि नक्सली हथियार छोड़कर यदि मुख्यधारा में शामिल होना चाह रहे हों तो सरकार बातचीत के लिए तैयार है। हालांकि अब छत्तीसगढ़ सरकार ने अपनी नीति बदल दी है।

कश्मीर में माहौल तनावपूर्ण, अनुच्छेद 35-ए पर आज आएगा फैसला