तानाशाह किम जोंग-उन ने अपने सहयोगी को उतारा मौत के घाट

400

सोल। नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन की तानाशाही एक बार सामने आई है तानाशाह किम ने अपने एक और टॉप सहयोगी को मौत के घाट उतार दिया है। रिपोर्टों में कहा गया है कि ह्वांग प्योंग-सो रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता हो गए थे और उन्हें पिछले 2 महीनों से किसी ने भी नहीं देखा है। गौरतलब है कि ह्वांग किम की कोर टीम के प्रमुख सदस्य थे। उन्हें देश के एक ताकतवर सैन्य अधिकारी के तौर पर देखा जा रहा था।

एक रिपोर्ट में कहा गया था कि वाइस मार्शल को 13 अक्टूबर से देखा नहीं गया है। उनकी गुमशुदगी के बाद ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि उन्हें उत्तर कोरियाई मौत के दस्ते ने मौत के घाट उतार दिया है। उत्तर कोरियाई रिपोर्ट्स में ऐसा कहा जा रहा है कि ह्वांग के खिलाफ घूस के आरोपों के बाद उन्हें मार डाला है।

जापान की यॉनहैप न्यूज एजेंसी ने दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसी के हवाले से कहा कि ह्वांग और उनके डेप्युटी किम वॉन-हॉन्ग को सेना से बर्खास्त कर दिया गया था और सजा दी गई।

यह भी कहा कि किम वॉन हॉन्ग उत्तर कोरिया की किसी जेल में सजा काट रहे हैं लेकिन ह्वांग को निश्चित तौर पर जिम जॉन्ग-उन ने मार दिया है।
यह पहली बार नहीं है जब किम जोंग ने किसी को मरवाया हो। इससे पहले भी किम ने अपने दुश्मनों को अजीबोगरीब तरीकों से मौत के घाट उतारा है। ऐसी भी खबरें आ चुकी हैं किम ने विमान उड़ाने वाले हथियार से अपने एक दुश्मन को उड़ा दिया था।