हनुमान की हुंकार रैली में 1500 पुलिसकर्मियों की तैनातगी

884
बीकानेर के मेडिकल कॉलेज मैदान में हुंकार रैली की तैयारियों का दृश्य। फोटो : राजेश छगाणी

सुरेश बोड़ा

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल की चार फरवरी को यहां मेडिकल कॉलेज मैदान में होने जा रही हुंकार रैली को लेकर जिला और पुलिस प्रशासन ने कड़े सुरक्षा इंतजाम किए हैं। सुबह सवा ग्यारह बजे से आयोजित होने वाली इस रैली में बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है। इसके मद्देनजर सभास्थल पर 1500 पुलिसकर्मियों की तैनातगी रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रखने के लिए चूरू, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर और नागौर से पुलिस दल बुलाया गया है। शहर के मुख्य पॉइंट्स पर पुलिस का जाब्ता रहेगा। सभी थानों के एचएसओ सहित अन्य पुलिस अधिकारियों को भी रैली के मद्देनजर अलग-अलग ड्यूटियां दी गई है। छह मोबाइल टीमें विभिन्न क्षेत्रों में निगरानी रखेगी। हाइवे पर अलग से टीमें तैनात होगी। ड्रोन कैमरा सभास्थल की गतिविधियों पर नजर रखेगा। शनिवार को कलक्टर अनिल गुप्ता, पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने सभास्थल का जायजा लिया।
सारा तामझाम वीआईपी
विधायक हनुमान बेनीवाल की रैली में सारे इंतजाम वीआईपी श्रेणी की रैलियों जैसे ही होंगे। मंच की ऊंचाई 11 फीट रखी गई है। लोगों के बैठने के लिए बड़ी संख्या में कुर्सियां लगाई गई है। सभास्थल पर ब्लॉकवार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। रैली की कवरेज के लिए बेनीवाल की सोशल मीडिया टीम सक्रिय रहेगी। वाहनों की पार्किंग के लिए आईटीआई कॉलेज, पॉलीटेक्निक कॉलेज व नागणेचीजी के पास के खुले परिसर में व्यवस्थाएं की गई है। उधर, हुंकार रैली पर भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों की भी नजरें टिकी हुई रहेगी। हाल में उपचुनावों में मिली करार हार के बाद यह हुंकार रैली भाजपा नेताओं के माथे पर भी कहीं न कहीं चिंता की लकीरें खिंचती नजर आ रही है। कांग्रेस भी हनुमान के यहां बढ़ते दायरे को पचा नहीं पा रही। खासतौर से जाट नेताओं को तो अपनी जमीन साफतौर पर खिसकती नजर आ रही है।
बहरहाल, विधायक हनुमान बेनीवाल ने ‘अभय इंडिया’ के संपादक सुरेश बोड़ा को बातचीत में बताया कि उनकी हुंकार रैली बीकानेर में इतिहास रचेगी। इसमें बड़ी संख्या में न केवल नौजवान और किसान, बल्कि अन्य वर्गों के लोग भी जुटेंगे। बेनीवाल ने दावा करते हुए कहा कि कांगे्रस और भाजपा दोनों आपस में मिली हुई है। उपचुनाव में कांग्रेस इसलिए जीत गई, क्योंकि मोदी और वसुंधरा से लोग परेशान थे और कोई तीसरा विकल्प उनके पास नहीं था। हम जल्द ही सीकर और जयपुर में विशाल रैली करके प्रदेश में तीसरे फ्रंट का ऐलान करने जा रहे हैं। बेनीवाल ने कहा कि हमारी मुख्य मांग किसानों का कर्जा माफ करने, मुफ्त बिजली देने, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने, बेरोजगारों को रोजगार देने की है। प्रदेश में चार लाख पद रिक्त हैं, लेकिन सरकार नौकरियों के बजाय केवल डिग्रियां ही बांट रही हैं।