लक्ष्मीनाथ परिसर में स्थापना दिवस की धूम

418
बीकानेर नगर स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर श्रीलक्ष्मीनाथजी मंदिर परिसर में सांस्कृतिक प्रस्तुति देते कलाकार।
बीकानेर नगर स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर श्रीलक्ष्मीनाथजी मंदिर परिसर में सांस्कृतिक प्रस्तुति देते कलाकार।

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। बीकानेर नगर के 531वें स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर सोमवार को जिला प्रशासन, नगर विकास न्यास तथा श्रीलक्ष्मीनाथ मंदिर विकास एवं पर्यावरण समिति की ओर से लक्ष्मीनाथ मंदिर परिसर में भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस दौरान राजस्थान संगीत नाटक अकादमी की ओर से बाड़मेर के विश्व प्रसिद्ध बुंदू खां लंगा एंड पार्टी ने गोरबंद, हिचकी, निंबूडा और लवार जिवड़ा जैसे पारम्परिक लोकगीतों से समां बांध दिया।

गंगादेवी एंड पार्टी की पूजा, पूनम, कमला, अनिता, वर्षा और मीनाक्षी आदि ने घूमर, कालबेलिया, चरी नृत्य और कालबेलिया नृत्य की प्रभावी प्रस्तुतियां दीं। गोपालराम डफ पार्टी के कलाकारों ने मोर बोल रे, मानै कोनी जसोदा थारौ गिरधर गोपाल गीतों की प्रस्तुति दी तो कार्यक्रम स्थल तालियों से गूंज उठा। बीकानेर की कौशल्या रामावत ने रंग-रंगीला राजस्थान तथा राजनारायण पुरोहित ने संजय पुरोहित के लिखे गीत ‘सैर बीकाणौ म्हारौ देख’ की प्रस्तुति दी। नियाज हसन ने केसरिया बालम आओ नी पधारौ म्हारै देस तथा छाप तिलक सब छोड़ के प्रस्तुत किया। खालसा भंगड़ा ग्रुप की ओर से आई बैशाखी भंगड़ा नृत्य के साथ पंजाब की लोक संस्कृति की प्रस्तुति दी गई।

इससे पहले मनोज रंगा ने गणेश वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरूआत की। इस दौरान डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, नगर विकास न्यास सचिव आर. के. जायसवाल, मोहन सुराणा, एसबीआई के उप महाप्रबंधक विनीत कुमार, सहायक महाप्रबंधक पी. एस. यादव, डीआरएम ए. के. दुबे, जेठानंद व्यास, भंवर पुरोहित, वरिष्ठ पत्रकार श्याम शर्मा, चंद्रशेखर कच्छावा सहित विभिन्न गणमान्य नागरिक मौजूद थे। श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर विकास एवं पर्यावरण समिति के अध्यक्ष पूनमचंद पालीवाल तथा सचिव सीताराम कच्छावा ने आगंतुकों का स्वागत किया। इस दौरान श्रीरतन तंबोली, विनोद महात्मा, शशि दरगड़, शैलेष आचार्य आदि ने विभिन्न व्यवस्थाएं संभाली। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा एवं रविन्द्र हर्ष ने किया।