कोठारी अस्पताल में सीएसएफ राईनोरिया रिपेयर का पांचवां सफल ऑपरेशन

Dr. Shekhawat
Dr. Shekhawat

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज) कोठारी हॉस्पीटल में नाक कान एवं गला रोग विशेषज्ञ डॉ. पुष्पेन्द्र शेखावत ने सीएसएफ राईनोरिया बीमारी से पीडि़त एक महिला मरीज का दूरबीन से नाक के रास्ते सफल ऑपरेशन किया है। डॉ. पुष्पेन्द्र शेखावत ने बताया कि कोठारी अस्पताल में एन्डोस्कोपिक ट्रान्सनेसल सीएसएफ राईनोरिया रिपेयर का यह पांचवां ऑपरेशन है।

अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. . पी. श्रीवास्तव ने बताया कि 35 वर्षीय एक महिला, जो कि सीएसएफ पीडि़त  थी। इस बीमारी में ब्रेन के चारों तरफ तरल पदार्थ जिसे सेरिब्रोस्पाईनल फ्लुइड कहा जाता है, सिर की हड्डी में एब्नोर्मल रास्ते से नाक से टपकने लगता है। इस वजह से दिमागी बुखार (मेनिंजाईटिस) का खतरा बढ़ जाता है जो जानलेवा हो सकता है। अस्पताल के ईएनटी रोग विशेषज्ञ डॉ. पुष्पेन्द्र शेखावत ने रोगी की सीटी स्केन, एमआरआई एवं सीएसएफ  की जांच से रोगी को सीएसएफ  राईनोरिया बीमारी से ग्रसित पाया। साथ में यह पाया कि दिमाग की हड्डी में छेद जो कि 19 सेमी का हो गया। 

इस जटिल ऑपरेशन के लिए मरीज के पैर से फिशियालाटा एवं नाक से बोन फ्लैप लेकर, हड्डी के छेद को बन्द किया। लम्बर ड्रेन से सीएसएफ प्रेशर कम रखा गया। तीन घन्टे चले जटिल ऑपरेशन में निश्चेतन विभाग की विशेषज्ञ डॉ. आरती राठौड़ ने एनेस्थिसिया एवं लम्बर ड्रेन लगाया। ऑपरेशन के बाद मरीज स्वस्थ है एवं नाक की सूंघने की शक्ति भी सही काम कर रही है। दूरबीन द्वारा इस तरह के ऑपरेशन जटिलता के कारण राजस्थान में बहुत ही कम किये जाते है।

संतुलित आहार जीवन का आधार :डॉ प्रीति गुप्ता

बिग बी के 76 वे जन्मदिन पर “ठग्स ऑफ बीकानेर” क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ शुभारंभ