‘आक्रोश’ जताने के लिए कांग्रेस ने बनाई नई रणनीति

0
459

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। गौवंश के मुद्दे को लेकर 29 दिनों से कलक्ट्रेट के समक्ष अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे कांग्रेसजन अब तीव्र आक्रोश जताने के मूड में नजर आ रहे हैं। यह आक्रोश वो रैली के माध्यम से जताएंगे। गुरुवार को निकाली जाने वाली रैली को सफल बनाने के लिए कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई है। धरने का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता गोपाल गहलोत व शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल गहलोत की मौजूदगी बुधवार को कांग्रेसजनों ने रैली में भीड़ जुटाने को लेकर रणनीति बनाई।
प्रवक्ता फिरोज भाटी ने बताया कि बुधवार को सर्व समाज के पूनमचंद पंवार एंव खेमचंद तेजी की अगुवाही में 11 जनों ने अनशन किया। अन्तरराष्ट्रीय जाट महासभा बीकानेर के मुख्य संरक्षक कवि प्रदीप कुमार चौधरी भी अपने साथियों के साथ समर्थन देने पहुंचे, इनके अलावा श्री खेतश्वर यूथ ब्रिगेड के घनश्याम सोढा राजपुरोहित की अगुवाही में सैकड़ों लोग गौसंरक्षण मुद्दे पर समर्थन देने रैली के रूप में धरना स्थल पर पहुंचे। श्री तोलियासर भैरूजी गली व्यापार मंडल अध्यक्ष नितिन चड्डा एंव पूर्व पार्षद मनीष पुरोहित (नटसा) भी अपनी टीम के साथ पहुंचकर हर सम्भव सहयोग का आश्वासन देते हुए वरिष्ठ नेता गोपाल गहलोत को माला पहनाई। बीकानेर ईसाई समाज ने फादर दीपक बेरिस्टो के नेतृत्व मे काफी लोगों ने धरने को अपना समर्थन दिया।
पीसीसी सदस्य गोपाल गहलोत ने सर्व प्रथम देश के महान स्वतन्त्रता सेनानियों एंव वीर शहीदों को नमन करते हुए कहा कि वर्तमान में हर तरफ गौवंश बेहाल है जबकि आजादी से पूर्व भी महान क्रांतिकारियों ने गौवंश की रक्षा के लिए अपनी जान की बाजी तक लगा दी थी। वर्तमान समय में जिला प्रशासन गौवंश की सुध न लेकर आम-जन की भावनाओं को आहत कर रहा है। इसके विरोध स्वरूप 15 फरवरी को सुबह 10.30 बजे गौवंश बचाओ आक्रोश रैली स्थानीय राजीव गांधी मार्ग से मुख्य बाजारों से होती हुई जिला कलक्ट्रेट पहुंचेगी। कांग्रेस नेता पंडित मगनलाल पाणेचा ने कहा कि गौवंश का हर धर्म व समाज में उच्च स्थान है। कुछ लोग गौवंश के नाम पर सिर्फ अपना निजी स्वार्थ साधने का कार्य करते है।
बुधवार को क्रमिक अनशन पर श्याम सुन्दर गहलोत, याकूब अली भाटी, शांतिलाल गहलोत, पूनमचंद पंवार, शिवरतन सारस्वत, खेमचंद तेजी, जगदीश चंद्र सांखला, शेराराम तंवर, दुलीचंद गहलोत, ओमप्रकाश सोलंकी, षिव गहलोत आदि धरना स्थल पर बैठे। धरनार्थियों को टींकू भाटी, सुखदेव जावा, पूर्व पार्षद उस्मान गुर्जर, मनीष पुरोहित, इजहार अली रामपुरा, पार्षद हजारी देवड़ा, पार्षद मनोज नायक, पार्षद यशपाल सिंह, मैक्स नायक, लालसिंह राजपुरोहित, नितिन वत्सस, आनन्दसिंह सोढा, रणजीत स्वामी, विक्की चडढा, नासिर तंवर, मनोज चौधरी, ओम प्रकाश लोहिया, हाजिर खान, पाबूराम नायक, मिर्जा हैदर बेग, महिला नेत्री मुमताज बानो, सरला गोयल आदि ने भी धरने को सम्बोधित किया।
इनके अलावा पार्षद आदर्श शर्मा, आदर्श शर्मा, शहाबुदीन भुटटा, बजरंग लाल शर्मा, राजकुमार गुप्ता, आशा स्वामी, लालचंद गहलोत, राजूदेवी व्यास, संजय भाटी, गुलशन बानो, मुनीर कुरैशी, एनडी कादरी, ओम प्रकाश भाटी, लखूराम गहलोत, बुधराम ओड, डीसी गहलोत, पार्षद नंदू गहलोत, अकबर अली खादी, बाबुलाल उपाध्याय, भागीरथ भाटी, मेघराज धवल, विजेन्द्र पंडित, युसुफ मुगल, ऐजाज पठान, अश्वीन एन्थोनी, एड.मो.असलम, ईस्माईल खिलजी, दीपक शर्मा, अनिल शर्मा, कैलाश गहलोत, सुन्दरलाल पडिहार, मगनलाल पंवार, आबिद हुसैन, एमडी चौहान, कैलाश भारती, जीतू सेवग, राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित, विनोद सिंह राजवी, दिनेश मोदी, महेन्द्र देवडा, चोरूलाल चांवरिया, मुमताज बेग, जाकिर नागौरी, गोपीराम बिश्नोई आदि ने भी धरने का समर्थन किया।