कोकजे बने विहिप अध्यक्ष, तोगडिय़ा गुट को झटका

655

गुडग़ांव। विश्व हिन्दू परिषद की कमान अब हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल व राजस्थान एवं मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश रहे विष्णु सदाशिव कोकजे संभालेंगे। शनिवार को हुए परिषद के चुनाव में वे अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित किए गए। उन्होंने निवर्तमान अध्यक्ष राघव रेड्डी को 71 मतों से पराजित किया। 192 सदस्यों ने मतदान किया। इनमें एक मत रद्द हो गया। कोकजे को 131, जबकि रेड्डी को 60 मत ही मिले। हार होते ही रेड्डी की टीम में अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष रहे डॉ. प्रवीण तोगडिय़ा ने विहिप को अलविदा कह दिया। उनकी जगह दिल्ली के आलोक कुमार को कोकजे ने अपनी टीम में कार्याध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंप दी।

एजेंसी सूत्रों के मुताबिक सिविल लाइंस स्थित लोक निर्माण विभाग के विश्रामगृह में शनिवार सुबह 11 बजे से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान शुरू हुआ। दोपहर एक बजे मतदान संपन्न होते ही मतगणना शुरू कर दी गई। मतगणना के बीच में ही रेड्डी की हार तय हो गई थी। जैसे ही जीत की घोषणा हुई डॉ. प्रवीण तोगडिय़ा बाहर निकल गए। जीत हासिल होने के एक घंटे के भीतर ही नवनिर्वाचित अध्यक्ष कोकजे ने अपनी टीम की घोषणा कर दी। नई टीम में आलोक कुमार एवं अशोक राव चौगुले को अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष, मिलिंद परांडे को अंतरराष्ट्रीय महामंत्री, विनायक राव देशपांडेय को अंतरराष्ट्रीय संगठन महामंत्री, चंपत राय को अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं कोटेश्वर राव को अंतरराष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री की जिम्मेदारी सौंपी गई। अन्य पदों पर राघव रेड्डी की टीम में जो पदाधिकारी थे, उन्हें बरकरार रखा गया है।

नवनियुक्त अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने निवर्तमान अध्यक्ष राघव रेड्डी, निवर्तमान कार्याध्यक्ष डा. प्रवीण तोगडिय़ा, निवर्तमान संगठन महामंत्री दिनेश चंद्र के कार्यों की प्रशंसा का प्रस्ताव बैठक में रखा जिसका ओम ध्वनि के साथ प्रन्यासी मंडल ने अनुमोदन किया। निर्वाचन अधिकारी की जिम्मेदारी निवर्तमान अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष जगन्नाथ शाही ने निभाई। उनका सहयोग चुनाव प्रबंधक के रूप में सिद्धेश्वर मंदिर सभा गुरुग्राम के महासचिव रामअवतार गर्ग उर्फ बिट्टू ने किया। दोनों ने चुनाव को शांतिपूर्ण व निष्पक्षता से कराने का दावा किया।