मंदिर में दो महिलाओं के साथ चैन स्नैचिंग, आरोपी कैमरे में कैद, देखें वीडियो

bikaner crime news today
bikaner crime news today

ओमप्रकाश सोनी/कोलायत/बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। जिले की तपोभूमि कोलायत के कपिलमुनि मंदिर में शनिवार को दो महिलाओं के साथ चैन स्नैचिंग की वारदातें सामने आई है। वारदात की रिकार्डिंग मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। पुलिस इसके आधार पर आरोपी का सुराग लगाने में जुट गई है।

घटनाक्रम के अनुसार रामी देवी पत्नी तुलसाराम अहीर निवासी कानासर तथा छोटी देवी पत्नी बंशीलाल सोनी निवासी फलोदी के गले की सोने की चैन कपिलमुनि के निज मंदिर में तोड़ ली गई। दोनों महिलाओं ने बताया कि वे सरोवर में स्नान करने के बाद निज मंदिर गई थी। इस दौरान किसी ने उनकी सोने की चैन तोड़ ली। दोनों ही चैन का वजन करीब 50 से 60 ग्राम बताया जा रहा है। घटना की सूचना मिलने के बाद कोलायत थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। थानाप्रभारी जगदीश सिंह के अनुसार सीसीटीवी कैमरे में मिले फुटेज के आधार पर आरोपियों का पता लगाया जा रहा है।

गौरतलब है कि प्रसिद्ध कपिलमुनि मंदिर में हरियाली अमावस्या के चलते बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे है। मौके पर पुलिस के भी पुख्ता इंतजाम किए हुए है। इसके बावजूद शातिर अपराधी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

नामी व्यवसायी के साथ हुई लाखों रुपए की धोखाधड़ी, दो केस दर्ज

बीकानेर (अभय इंडिया न्यूज)। शहर के नामी व्यवसायी के साथ धोखाधड़ी कर लाखों रुपए हड़पने का मामला सामने आया है। कोटगेट थाना पुलिस ने दो अलग-अलग केस दर्ज कर जांच शुरू की है।

पुलिस के अनुसार बागड़ी मोहल्ला निवासी मूलचंद डागा पुत्र सुंदरलाल डागा की ओर से दर्ज कराए गए एक केस में सी-18 सार्दुलगंज निवासी बिन्दु सिंघानिया पत्नी राजकुमार सिंघानिया के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। परिवादी डागा ने आरोप लगाया है कि उनकी पत्नी मनीषा व बिन्दु दोनों बीकानेर एग्रो सर्विसेज, खारा रोङ में 50-50 प्रतिशत भागीदार है। जिनका संयुक्त खाता पीएनबी की केईएम रोङ शाखा में है। उक्त खाते में से बिन्दु ने मनीषा के कूटरचित हस्ताक्षर कर 11,30,000 रुपए अपने खाते में स्थानांतरित कर दिए।

परिवादी मूलचंद डागा की ओर से इसी तरह एक और केस दर्ज कराया गया है। इसमें परिवादी डागा ने राजकुमार सिंघानिया पुत्र महावीर प्रसाद निकेत सिंघानिया पुत्र राजकुमार सिंघानिया के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। परिवादी के अनुसार उसकी पुत्री चांदनी, निकेता व राजकुमार तीनों राजस्थान एग्रो सर्विसेज बीकानेर में 40-40-20 प्रतिशत भागीदार है। उपरोक्त फर्म का संयुक्त खाता पीएनबी केईएम रोड शाखा में हैं। उक्त खाते में से निकेत व राजकुमार सिंघानिया ने मेरी पुत्री चांदनी के कूटरचित हस्ताक्षर कर 7,60,000 रुपए अपने खाते में स्थानांतरित कर दिए। पुलिस ने उक्त दोनों ही मामलों में आईपीसी की धारा 406 409 420 467 468 471 475 व 120 बी के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आईजी ने दिखाए तेवर, बोले- हार्डकोर अपराधियों के खिलाफ चलाओ अभियान