कपिल मुनि धाम में ब्राह्मण समाज ने भरी हुंकार

Brahman Brahaman Samaj
Brahman Brahaman Samaj
Brahman Brahaman Samaj
Brahman Brahaman Samaj

 

बीकानेर/श्रीकोलायत (अभय इंडिया न्यूज)। कपिलमुनि धाम श्रीकोलायत में आयोजित ब्राह्मण जन मंच का एक दिवसीय सम्मेलन सामाजिक कुरीतियां त्यागने के संकल्प के साथ संपन्न हुआ। सम्मेलन में बीकानेर नागौर, जोधपुर, जैसलमेर, भीलवाड़ा सहित विभिन्न स्थानों से बड़ी संख्या में प्रवासी लोगों ने भाग लिया। यहाँ स्थित महर्षि गौतम आश्रम में खचा-खच भरे परिसर में संभागियों को सम्बोधित करते हुवे श्रीबालाजी धाम के महंत बजरंगदास महाराज ने कहा कि राष्ट्र की एकता अखण्डता एवं विश्व बन्धुत्व, प्राणियों में सद्भावना सहित नैतिक शिक्षा से ओत-प्रोत दर्शन ब्राह्मण समाज की ही देन है।

उन्होंने समाज में व्याप्त नशाप्रवृति पर चोट करते हुवे कहा कि सभी प्रकार का नशा शरीर को दीमक की तरह खोखला कर देता है। उन्होंने मृत्युभोज, दहेजप्रथा का त्याग करने का आह्वान करते हुए युवा पीढ़ी में संस्कार युक्त शिक्षा नारी उत्थान पर्यावरण रोजगार पर बल दिया। इससे पूर्व सम्मेलन में आये प्रतिनिधियों का गुर्जर गौड़ समाज राजस्थान परिमण्डल के अध्यक्ष हनुमानप्रसाद सांखी ने प्रतिनिधियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में जोधपुर के सुरेश जोशी ने ब्राह्मण जन मंच के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए ब्राह्मण जन मंच को गैर राजनीतिक संगठन बताते हुए कहा कि मंच ने ब्राह्मण समाज में क्रांति का सूत्रपात किया है। इस अवसर पर अखिल भारतीय पुष्टिकर सेवा परिषद् के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रकाश छंगाणी ने कहा कि अब समय आ गया है कि विभिन्न जातियों एवं वर्गो में बंटे ब्राह्मण समाज को एक जाजम पर बैठकर सामाजिक एकता की ओर बढ़ाना होगा। इस अवसर पर सेवानिवृत भारतीय प्रशासनिक सेवा के भागीरथ शर्मा ने युवा पीढ़ी विशेषकर छात्रा को आधुनिक शिक्षा से जोडऩे जा आह्वान करते हुए कहा कि योग्य छात्र छात्राओं को सभी प्रकार की सहायता दी जायेगी।

विप्र फाउंडेशन की जिला अध्यक्ष सुनीता गौड़ ने कहा की समाज में सामूहिक विवाह के लिए सभी घटकों को साथ लेकर सामूहिक विवाह समय की मांग है। उन्होंने कहा है की सामूहिक विवाह से अनावश्यक खर्चो पर प्रतिबन्ध लगेगा। साथ ही दहेज़ प्रथा जैसी कुरीति ख़त्म होगी। सम्मेलन में श्रीधर शर्मा ने महिला शिक्षा व स्वरोजगार के जरिये आत्म निर्भर बनाने की बात कही। विप्र फाउण्डेशन के प्रदेश अध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने कहा कि सभी ब्राह्मण ऋषि संतान है। हमें वैवाहिक सम्बन्ध जोडऩे की दिशा में आगे बढ़ाना चाहिए। ब्राह्मण जन मंच कार्यक्रम में ब्राह्मण समाज का पांचवे युवक युवती परिचय सम्मलेन एवं सामूहिक विवाह पेम्पलेट का अतिथियों ने लोकार्पण किया।सम्मेलन में विप्र फाउंडेशन के जिला अध्यक्ष भंवर पुरोहित, अरविन्द गौड़, गोवर्धन चुमाल, समता आंदोलन के पारस नारायण शर्मा, हीरालाल बेंगलुरु, रमेश जाजड़ा, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष महादेव शर्मा, भवानी पाईवाल, विप्र फाउण्डेशन राष्ट्रीय महामंत्री भरतराम तिवाड़ी, पिंकी कौशिक, विश्वनाथ शर्मा, प्रह्लाद जोशी, विनोद शर्मा, अंकित भारद्वाज, अंकुर शुक्ला, हनुमान प्रसाद शर्मा सहित वक्ताओं ने विचार व्यक्त किये। इससे पूर्व अतिथियों ने भगवान परशुराम के तेलीय चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।