खबरदार! अगले 30 घंटों में तेज बारिश-तूफान का अलर्ट जारी

1253
monsoon file photo
monsoon file photo

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ तथा आसपास के पूर्वी मध्य प्रदेश के ऊपर चक्रवाती परिसंचरण (अपर एयर साइक्लोनिक सर्कुलेशन) की वजह से मौसम का मिजाज अगले कुछ घंटों में तेजी से बदल सकता है। मौसम में लगातार हो रहे बदलाव के बाद विभाग ने चक्रवाती तूफान की आशंका जताई है, जबकि नौ राज्यों में अगले 30 घंटों में भारी बारिश की संभावना है। उधर, केरल में बारिश का कहर जारी है जिसमें अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले कई दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। इसके अलावा देशभर के कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गए हैं।

इसलिए आ सकता है चक्रवाती तूफान?

मौसम विभाग के हवाले से आ रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उत्तर छत्तीसगढ़ एवं उससे लगे पूर्वी मध्य प्रदेश में एक अति कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। साथ ही साथ इन राज्यों की हवा के ऊपरी क्षेत्र में 7.6 किलोमीटर की ऊंचाई पर चक्रवाती हवाओं का संचालन तेजी से आगे बढ़ रहा है। जबकि मानसून द्रोणिका चुरू, झांसी, बीकानेर, उमरिया, अतिकम दबाव के क्षेत्र के मध्य भाग से गोपालपुर और बंगाल की खाड़ी तक असर कर रही है। वहीं राजस्थान और उसके आसपास के हवा के ऊपरी क्षेत्रों में 1.5 से 5.8 किलोमीटर तक चक्रवाती हवाओं का घेरा बना हुआ है।

बॉर्डर एरिया में बनेगी 600 किमी. लम्बी मानव शृंखला, 1 लाख लोग जुटेंगे

राजस्थान के इस शहर में हो सकती है सबसे धनी परिवार के बेटे की शादी!