..तो डॉ. कल्ला, चंद्रभान सहित 20 के ‘हाथ’ नहीं लगेगा कांग्रेस का टिकट!

0
4349

सुरेश बोड़ा

बीकानेर/जयपुर (अभय इंडिया न्यूज)। राजस्थान में होने वाले अगले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के उन 20 नेताओं के टिकट ‘हाथ’ नहीं लगेगा जो लगातार दो बार विधानसभा का चुनाव हार बैठे है। कांग्रेस हाईकमान ऐसे नेताओं को टिकट नहीं देने का मन लगभग बना चुका है। यदि सच में ऐसा हुआ तो कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री रह चुके डॉ. बी. डी. कल्ला, चंद्रभान, संयम सोढ़ा, ममता शर्मा, रिछपाल मिर्धा सहित 20 नेता टिकट की रेस से ही बाहर हो जाएंगे।
असल में, गुजरात और विधानसभा चुनावों के बाद कांग्रेस ने राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर अभी से कमर कसनी शुरू कर दी है। इसके चलते अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) ने अंदरखाने में उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया का काम शुरू कर दिया है। पार्टी सूत्रों से पता चला है कि इस बार कांग्रेस लगातार दो बार विधानसभा चुनाव हारने वाले नेताओं को टिकट नहीं देने का फार्मूला अपनाने जा रही है। पार्टी का गुजरात में यह फार्मूला सफल भी रहा है।
हालांकि यह फार्मूला राजस्थान के पिछले विधानसभा चुनाव में भी लागू करने का दावा किया गया था, पर ऐन वक्त पर दो बार हारे कईं नेताओं को टिकट थमा दिया गया था। सूत्रों ने बताया कि इस बार राहुल गांधी इस फार्मूले के तहत ही टिकट चयन करेंगे और किसी को भी कोई छूट नहीं देंगे। हां, उक्त सीट पर अन्य जिताऊ प्रत्याशी नहीं मिलने की स्थिति में दो बार हारे हुए नेताओं के रिश्तेदार को मौका देने का रास्ता जरूर निकाला जा सकता है।
इसके अलाव एक-दो सीटों पर जातिगत और सियासी समीकरण साधने के लिए दो बार हारे नेताओं को मौका दिए जाने की चर्चाएं भी जोर पकड़ रही है।
सूत्रों ने बताया कि प्रदेश नेतृत्व ने ऐसे नेताओं की सूची दिल्ली में राहुल गांधी के ऑफिस में भेज दी है। इसके साथ ही लगातार दो बार हारने वाले नेताओं की धड़कने तेज हो गई है।

ये हैं लगातार दो बार हारने वाले नेता
डॉ. बी. डी. कल्ला (सीट- बीकानेर पश्चिम) बीकानेर, डॉ. चंद्रभान (मंडावा) झुंझुनूं, संयम लोढ़ा सिरोही, ममता शर्मा बूंदी, रिछपाल मिर्धा (डेगाना) नागौर, चंद्रशेखर बैद (तारानगर) चूरू, रामचंद्र सराधना (विराटनगर) जयपुर, आलोक बेनीवाल (शाहपुरा) जयपुर, जुबेर खान (रामगढ़) अलवर, नरेन्द्र शर्मा (अलवर) शहर अलवर, रमेश खिंची (कठूमर) अलवर, बनवारीलाल शर्मा धौलपुर, लक्ष्मण मीणा (बस्सी) जयपुर, गिरीश चौधरी (नदबई) भरतपुर, गोपाल बाहेती (अजमेर उत्तर) अजमेर, खुशवीर सिंह जोजावर (मारवाड़ जंक्शन) पाली, नईमुद्दीन गुड्डू (लाडपुरा) कोटा, मीनाक्षी चंद्रावत (झालरापाटन) झालावाड़, विक्रम सिंह (विद्याधर नगर) जयपुर, दीपचंद खेरिया (किशनगढ़बास) अलवर।

यह भी पढ़े : नया साल तय करेगा कौन संभालेगा कांग्रेस की बागडोर! http://www.abhayindia.com/the-new-year-will-decide-who-will-take-the-reins-of-the-congress/